Virat Kohli: No scope for much change in ODI team ahead of World Cup 2019 in England
Virat Kohli, Bhuvneshwar Kumar (AFP)

सिडनी वनडे से पहले भारतीय कप्तान विराट कोहली ने अपनी टीम के बल्लेबाजी क्रम की जमकर तारीफ की। कप्तान ने कहा कि इंग्लैंड में 30 मई से शुरू हो रहे वनडे विश्व कप से पहले बल्लेबाजी क्रम काफी मजबूत नजर आ रहा है और टूर्नामेंट से पहले टीम कॉम्बिनेशन में बदलाव की संभावना कम है।

ये भी पढ़ें:  संन्यास लेने के बाद फिर कभी बैट नहीं उठाउंगा: विराट कोहली

उन्होंने कहा, ‘‘पिछले 12 महीने में वनडे मैचों में हमारी बल्लेबाजी काफी मजबूत रही और इसमें सलामी बल्लेबाजों की बड़ी भूमिका रही। बीच में ऐसा समय था जब हमने बीच के ओवरों की समस्या का हल निकाला और 25 से 40 ओवर तक अपनी बल्लेबाजी शैली में बदलाव की कोशिश की।’’

कोहली का मानना है कि भारतीय टीम का संतुलन प्रत्येक विभाग में बेहतरीन है। वो टीम के मौजूदा संयोजन से खुश हैं और 30 मई से इंग्लैंड में शुरू होने वाले वनडे विश्व कप के लिए टीम में ज्यादा बदलाव की गुंजाइश नहीं है।

ये भी पढ़ें:  हार्दिक पांड्या को लेकर परेशान नहीं हैं कोहली, रविंद्र जडेजा होंगे विकल्प

भारतीय कप्तान ने कहा, ‘‘विश्व कप से पहले हमारे पास अब ज्यादा मैच नहीं बचे हैं इसलिए हम लगभग उसी टीम के साथ खेलना चाहते हैं जो विश्व कप में खेलेगी। जसप्रीत बुमराह का मामला अलग है। उन्हें टेस्ट मैच के भार को देखते हुए विश्राम दिया गया है। उनके अलावा मुझे नहीं लगता कि हम टीम कॉम्बिनेशन के बारे में ज्यादा विचार करेंगे।’’

कोहली ने हालांकि कहा कि टीम में कुछ जगहों के लिए फार्म और फिटनेस देखने के बाद फैसला किया जाएगा।उन्होंने कहा, ‘‘टीम में एक-दो ऐसे स्थान हैं जहां आपको बदलाव करना पड़ सकता है लेकिन इसके अलावा हम विश्व कप से पहले इसी कॉम्बिनेशन के साथ खेलना चाहते हैं।’’

ये भी पढ़ें: ‘हार्दिक पांड्या के बयान का समर्थन नहीं करती भारतीय क्रिकेट टीम’

पांड्या और राहुल तीन मैचों की सीरीज के शुरूआती मैचों के लिए शायद उपलब्ध नहीं रहेंगे जिस पर कोहली ने कहा कि इससे उन्हें तेज गेंदबाजों के साथ प्रयोग करने का मौका मिलेगा।

उन्होंने कहा, ‘‘भुवनेश्वर कुमार की वापसी हुई है। वो टेस्ट सीरीज के दौरान कड़ी मेहनत कर रहे थे। खलील अहमद को जो मौके मिले हैं उसने उसमें अच्छा प्रदर्शन किया है। मोहम्मद शमी के पास नई गेंद से विकेट लेने की काबिलियत है। उनके पास खुद को टीम में स्थापित करने का मौका होगा।’’