Virat Kohli on sledging: No boundary was crossed in second Test
Virat Kohli ©AFP

भारतीय कप्तान विराट कोहली का कहना है कि पर्थ टेस्ट में ऑस्ट्रेलियाई कप्तान टिम पेन के साथ उनकी बहस के दौरान कोई अपशब्द नहीं कहे गए और ना ही निजी हमला किया गया। कोहली ने साथ ही कहा कि इस दौरान कोई सीमा भी नहीं लांघी गई।

टिम पेन : अगर भारत ने स्‍लेजिंग की तो हम हाथ पर हाथ धरे बैठे नहीं रहेंगे

दूसरे टेस्ट में भारत को 146 रन से हार का सामना करना पड़ा और इस दौरान कोहली और पेन को शाब्दिक जंग में उलझते देखा गया। इसके बाद सोमवार को चौथे दिन के खेल के दौरान अंपयार क्रिस गफाने को दोनों को शांत कराने के लिए हस्तक्षेप करना पड़ा।

कोहली ने 2014 की टेस्ट सीरीज के दौरान ऑस्ट्रेलिया के कुछ खिलाड़ियों के साथ तीखी बहस को लेकर कहा, ‘‘ईमानदारी से कहूं तो 2014 की तुलना में यह कुछ भी नहीं था। जब तक कि मैदान पर अपशब्द नहीं कहे जाते, कोई निजी हमला नहीं होता, तब तक सीमा नहीं लांघी जाएगी।’’

हेजलवुड बोले- खेल भावना के दायरे में हुई विराट-टिम पेन के बीच जुबानी जंग

कोहली ने पहली पारी में 123 रन बनाए लेकिन विवादास्पद कैच का शिकार बने। भारतीय कप्तान ने हालांकि इन सुझावों को खारिज कर दिया कि उन्होंने मैदानी अंपायर के आउट का इशारा करने पर नाखुशी जताई थी। उन्होंने कहा, ‘‘मुझे नहीं लगता कि आउट होने पर मैंने कोई नाखुशी जताई। ऑस्ट्रेलिया ने हमारी तुलना में बेहतर खेल दिखाया और वे जीत के हकदार थे।’’