Virat Kohli planning to go for all pace attack in 3rd Test against South Africa
भुवनेश्वर कुमार दूसरे टेस्ट में नहीं खेले थे © AFP

भारतीय कप्तान विराट कोहली ने आज कहा कि तेज गेंदबाजों के प्रदर्शन से टीम का हौसला बढ़ा है और उन्होंने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ कल से यहां शुरू होने वाले तीसरे और अंतिम टेस्ट मैच में वांडरर्स की हरी पिच पर केवल तेज गेंदबाजों के साथ उतरने के संकेत दिये। कोहली से पूछा गया कि क्या भारत केवल तेज गेंदबाजों के साथ उतरेगा, उन्होंने कहा, ‘‘कुछ भी होने की संभावना है। जैसे मैंने कहा कि पिच पर काफी घास है। हम निश्चित तौर पर इस विकल्प पर गौर करेंगे। मुझे पूरा विश्वास है कि दोनों टीमें इन विकल्पों पर गौर करेंगी।’’

उन्होंने कहा, ‘‘विदेशी दौरों पर हमने बहुत कम बार दो टेस्ट मैचों में 40 विकेट हासिल किए। अगर गेंदबाज अपना अच्छा प्रदर्शन जारी रखते हैं तो इससे हमें फायदा मिलेगा। हमने अब तक 40 विकेट लिए हैं और हमें यह पता करने की जरूरत है कि इस टेस्ट मैच में भी 20 विकेट हासिल करने का सर्वश्रेष्ठ तरीका क्या हो सकता है।’’ भारतीय बल्लेबाजों ने अब तक सीरीज में अच्छा प्रदर्शन नहीं किया और कोहली को उम्मीद है कि वे अपनी गलतियों से सबक लेंगे।

विराट कोहली ने रवि शास्त्री के बयान को खारिज किया
विराट कोहली ने रवि शास्त्री के बयान को खारिज किया

उन्होंने कहा, ‘‘मैंने सीरीज से पहले कहा था कि जो भी टीम अच्छी बल्लेबाजी करेगी वह सीरीज जीतेगी और अब तक ऐसा हुआ है। बल्लेबाज पहले दो मैचों की अपनी गलतियों में सुधार करने पर ध्यान दे रहे हैं। हम इस टेस्ट मैच को इस तरह से ले रहे हैं जिसमें हमें अपनी सर्वश्रेष्ठ क्रिकेट खेलनी है और पहले दो टेस्ट मैचों में जिस स्थिति में थे उसे और मजबूती प्रदान करनी है।’’ भारत ने अब वांडरर्स में चार टेस्ट मैच खेले हैं और उसने यहां कोई मैच नहीं गंवाया है। इनमें 2013 का मैच भी है जो आखिर में रोमांचक ड्रा के रूप में समाप्त हुआ।

कोहली ने कहा, ‘‘मुझे लगता है कि 2013 के मैच में दोनों टीमों और दर्शकों में से जो भी शामिल था उसके लिये वह काफी रोमांचक था। यह मेरे लिये और टीम के लिये यादगार टेस्ट मैच था क्योंकि हमने अच्छा स्कोर बनाकर दक्षिण अफ्रीका को अपनी सर्वश्रेष्ठ क्रिकेट खेलने के लिये मजबूर किया था।’’ कोहली ने दक्षिण अफ्रीका के वर्तमान दौरे को कड़ा सबक बताया और कहा कि उनकी टीम गलतियां नहीं दोहराएगी और कल नये सिरे से शुरूआत करेगी।

उन्होंने कहा, ‘‘हर मैच आपको कुछ नई सीख देता है चाहे आपकी जीत हो या हार। आप यही सीखते हो कि कोशिश करो और गलतियां नहीं दोहराओ। केवल इसी तरह से आप कप्तान और खिलाड़ी के रूप में आगे बढ़ सकते हो।’’