live cricket score, live score, live score cricket, india vs england live, india vs england live score, ind vs england live cricket score, india vs england 3rd test match live, india vs england 3rd test live, cricket live score, cricket score, cricket, live cricket streaming, live cricket video, live cricket, cricket live mohali

विराट कोहली और आदिल राशिद ने लगभग एक समय में अपना करियर शुरू किया था। लेकिन कोहली जहां स्टार खिलाड़ी बन गए तो राशिद को अपनी जगह बनाने में थोड़ा समय लगा। कोहली और राशिद का पहली बार आमना- सामना साल 2006 में भारत अंडर- 19 और इंग्लैंड अंडर- 19 के बीच खेली गई यूथ टेस्ट सीरीज में हुआ था। उस सीरीज में राशिद ने 14 विकेट लिए थे और 225 रन बनाए थे। उन्होंने दूसरे मैच में अपना बेस्ट स्पैल फेका था, जहां उन्होंने 8 विकेट ले डाले थे। इस तरह उनके साल 2007-08 में अंडर- 19 विश्व कप में इंग्लैंड टीम की ओर से सम्मिलित होने के सबसे ज्यादा मौके थे। लेकिन स्ट्रेस फ्रेक्चर के कारण उन्हें टूर्नामेंट से बाहर होना पड़ा था।

बाद में, उन्होंने घरेलू क्रिकेट खेलना जारी रखा और अंततः उन्हें साल 2009 में अंतरराष्ट्रीय टीम से बुलावा आ गया। 10 साल के बाद, अब फिर से राशिद का सामना विराट कोहली से हुआ है। अब तक, राशिद सीरीज में 17 विकेट ले चुके हैं, जो सीरीज में सबसे अधिक हैं। जाहिर है कि उन्होंने भारत में बेहतरीन गेंदबाजी की है। राशिद के गेंदबाजी प्रदर्शन को देखते हुए कोहली ने उनकी प्रशंसा की और अपने राशिद के साथ पहले मुकाबले को याद किया। कोहली ने टाइम्स ऑफ इंडिया को बताया, “वह अंडर 19 विश्व कप में इतने बढ़िया थे कि हमने सोचा कि वह 2009 एशेज सीरीज में खेलेंगे।” कोहली यूथ सीरीज का नाम लेना चाहते थे लेकिन गलती से अंडर-19 विश्व कप कह गए। [भारत बनाम इंग्लैंड, तीसरे टेस्ट का स्कोरबोर्ड देखने के लिए क्लिक करें]

राशिद के बाद इस सीरीज में अश्विन 12 विकेटों के साथ दूसरे स्थान पर हैं। राशिद के बारे में सबसे अच्छी बात है उनकी गेंदों में विविधता जिसने अक्सर बल्लेबाजों को परेशानी में डाला है। राशिद ने इस बारे में बात करते हुए कहा, “कभी कभार आपको थोड़ा भाग्य का साथ मिलता है। लेकिन नेट में कठिन मेहनत मुख्य है। मैंने कुछ तकनीकी चीजों और फील्ड जिस पर मुझे गेंदबाजी करना है पर काम किया है।”

हर लेग स्पिनर को बेहतरीन बनने के लिए कुछ समय चाहिए होता है और राशिद के मुताबिक उनके कप्तान एलिस्टेयर कुक ने उनके विकास में मुख्य भूमिका निभाई है। भारत और इंग्लैंड के बीच साल 2012 में भारतीय सरजमीं पर आयोजित टेस्ट सीरीज में स्पिनरों ने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी। इस बार भी स्पिनर कहर बरपा रहे हैं।