विराट कोहली © AFP
विराट कोहली © AFP

टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली जब भी मैदान पर बल्लेबाजी के लिए उतरते हैं तो अकसर रिकॉर्ड उनके सजदे में झुके नजर आते हैं। कोहली अपनी विराट पारियों से अकसर नए कीर्तिमान बनाते नजर आते हैं। चैंपियंस ट्रॉफी के सेमीफाइनल में भी विराट कोहली ने एक ऐसा ही मुकाम छुआ। विराट कोहली वनडे में सबसे तेज 8000 रन बनाने वाले बल्लेबाज बन गए।  कोहली ने दक्षिण अफ्रीका के कप्तान एबी डीविलियर्स को पीछे छोड़ते हुए इस रिकॉर्ड को अपने नाम किया।

बांग्लादेश के खिलाफ 88 के निजी स्कोर पर पहुंचते ही डीविलियर्स सबसे कम पारियों में 8000 वनडे रन बनाने वाले बल्लेबाज बन गए। कोहली ने 175वीं पारी में ये बड़ा मुकाम हासिल किया है। इससे पहले यह रिकॉर्ड द.अफ्रीकी कप्तान एबी डीविलियर्स के नाम था, जिन्होंने 182 पारियों में 8000 रन पूरे किए थे। इस रिकॉर्ड के साथ ही विराट कोहली ने भारत के महान बल्लेबाज सचिन तेंडुलकर और सौरव गांगुली को भी पीछे छोड़ दिया। सौरभ गांगुली ने 200 वनडे खेलकर ये रिकॉर्ड बनाया था, जबकि सचिन तेंडुलकर ने इस स्तर पर पहुंचने के लिए 210 पारियां खेली थीं। इस मामले में वेस्टइ इंडीज के पूर्व कप्तान ब्रायन लारा अब 5वें नंबर हैं, जिन्होंने 211 पारियों में ये मुकाम पाया था। ये भी पढ़ें-रोहित शर्मा ने ठोका बांग्लादेश के खिलाफ शतक, सचिन को छोड़ा पीछे

बल्लेबाज पारी
विराट कोहली 175
ए बी डीविलियर्स 182
सौरव गांगुली 200
सचिन       तेंदुलकर 210
ब्रायन लारा 211

टीम इंडिया के पूर्व कप्तान और कोहली के साथी महेंद्र सिंह धोनी सबसे तेजी से 8,000 रन बनाने वाले बल्लेबाजों में छठे स्थान पर हैं। उन्होंने 214 पारियों में इस आंकड़े को छुआ था। विराट कोहली सबसे तेजी से 8,000 रन बनाने के साथ ही भारत की ओर से सबसे तेज 5,000, 6,000 और 7,000 रन बनाने का रेकॉर्ड भी अपने नाम कर चुके हैं।