Virat Kohli reveals booing does not impact him anymore
Virat kohli

ऑस्ट्रेलिया टेस्ट सीरीज के दौरान भारतीय कप्तान विराट कोहली की आक्रामकता को लेकर काफी विवाद हुए। कई दिग्गजों ने इसे गलत ठहराया तो कुछ ने इसको सही माना। विराट कोहली अब इन सब के आगे निकल चुके हैं।

उनके प्रतिस्पर्धी रवैये में कोई कमी नहीं आई है लेकिन भारतीय कप्तान विराट कोहली का कहना है कि वह ‘बूइंग’ पर अब तवज्जो नहीं देते। अपनी ऊर्जा देश की क्रिकेट टीम की कप्तानी की ‘बड़ी जिम्मेदारी’ पर लगाते हैं। ऑस्ट्रेलिया में टेस्ट सीरीज के दौरान कोहली को दर्शकों की हूटिंग झेलनी पड़ी जिस पर रिकी पोंटिंग जैसे ऑस्ट्रेलियाई दिग्गजों ने भी आपत्ति जताई थी।

पढ़ें:- ICC ने माना कप्तान कोहली का लोहा, मिली टेस्ट,वनडे की कमान

न्यूजीलैंड के खिलाफ पहले वनडे से पूर्व कोहली ने कहा, ‘‘यह मेरे कैरियर के बीच के दौर में होता था। यह 2014-15 में शुरू हुआ। मैं उस समय इन बातों पर बहुत ध्यान देता था लेकिन अब टीम का कप्तान होने के नाते मुझे इन पर फोकस करने की जरूरत नहीं है।’’

ऑस्ट्रेलिया में भारत को पहली वनडे और टेस्ट सीरीज जिताने वाले कोहली ने कहा, ‘‘मेरे ऊपर बड़ी जिम्मेदारियां हैं और देश के लिए खेलना सम्मान की बात है। दर्शक मेरे साथ रहें या मेरे खिलाफ रहें, मेरा काम अपनी जिम्मेदारी निभाना है। मैदान में चाहे एक व्यक्ति हो या 50000। मुझे अपना काम करना है।’’

पढें:- न्यूजीलैंड में रिकॉर्ड सुधारने का मौका, सिर्फ एक वनडे सीरीज

उन्होंने कहा, ‘‘ पिछले दो या तीन साल से मेरी यही सोच रही है। मैं बल्लेबाजी करने जाता हूं तो इसी पर ध्यान देता हूं।’’