© AFP
© AFP

ऐसा बहुत कम ही देखने को मिलता है कि टीम इंडिया अपने स्टार खिलाड़ी विराट कोहली के बगैर मैदान पर उतरे। लेकिन जब अगले कुछ हफ्तों के दौरान टीम इंडिया श्रीलंका के खिलाफ लिमिटेड ओवर सीरीज में दो-दो हाथ कर रही होगी तो ये देखने को मिलेगा। टीम इंडिया दिसंबर के महीने में श्रीलंका के साथ 3 वनडे और 3 टी20 मैचों की सीरीज खेलेगी। चयनकर्ताओं ने कोहली को दोनों ही सीरीजों से ब्रेक देने का फैसला किया है। दिलचस्प बात यह है कि कोहली उन खिलाड़ियों में से एक हैं जो मैदान से शायद ही कभी ब्रेक लेते हैं।

श्रीलंका के खिलाफ टेस्ट सीरीज के समापन के बाद, जिसे टीम इंडिया ने 1-0 से जीता। संजय मांजरेकर ने कोहली से पूछा कि आने वाले दिनों में जब टीम इंडिया कोहली के बगैर खेलते हुए नजर आएगी तो कैसा लगेगा? इस पर कोहली ने तपाक से जवाब दिया और कहा कि उनके शरीर को लंबे समय से आराम चाहिए था।

कोहली पिछले 48 महीनों से लगातार क्रिकेट खेलते आ रहे थे। ऐसे में भारतीय टीम के द. अफ्रीका दौरे के पहले आराम लेना उनके लिए सही था। आईबीटाइम्स के हवाले कोहली ने इस बात को स्वीकार किया कि बहुत ज्यादा क्रिकेट खेलने से उन्हें शारीरिक समस्याएं होना शुरू हो गई थीं। यह पहली बार है जब कोहली ने टीम इंडिया के तंगहाल शेड्यूल के बारे में अपनी बात रखी है। इसके पहले भी उन्होंने इस मुद्दे पर अपना मत दिया था और कहा था कि राष्ट्रीय टीम को बहुत कम आराम मिल रहा है। इस साल टीम आईपीएल के बाद से बिना रुके क्रिकेट खेल रही है।

एम एस धोनी ही होंगे चेन्नई सुपरकिंग्स के कप्तान, टीम डायरेक्टर ने की पुष्टि
एम एस धोनी ही होंगे चेन्नई सुपरकिंग्स के कप्तान, टीम डायरेक्टर ने की पुष्टि

कोहली ने कहा, “पिछली बार जब मैंने आराम लिया था तब अपने आपको उस परिस्थिति में रोक पाना खासा कठिन था क्योंकि मैं अपने टीम के खिलाड़ियों को मैदान पर खेलते देख रहा था। लेकिन अब मेरे शरीर को आराम चाहिए। यह एक एक लंबा बहुत लंबा सीजन रहा। पिछले 48 घंटों में शायद ही मैंने आराम किया है और मैंने हर मैच खेला है। काम का दबाव बहुत रहा है। मैं इस कम एनर्जी के साथ नहीं खेल सकता। पिछले कुछ सालों में मेरे शरीर पर कुछ परेशानियां भी आई हैं। द. अफ्रीका के खिलाफ सीरीज के पहले अपने आपको आराम देने का यह सही समय है।”