विराट कोहली  © Getty Images
विराट कोहली © Getty Images

लंदन। भारतीय कप्तान विराट कोहली ने कहा कि बीसीसीआई मुख्य कोच के पद के लिए आवेदन मंगवाकर उचित प्रक्रिया का पालन कर रहा है क्योंकि अनिल कुंबले का अनुबंध चैम्पियंस ट्राफी के खत्म होने के साथ ही समाप्त हो रहा है। कुंबले के मार्गदर्शन में भारत ने पिछले सत्र में 17 टेस्ट मैचों में से 12 में जीत दर्ज की है और बीसीसीआई के इस कदम से कईयों को लगता है कि पूर्व भारतीय कप्तान को संकेत मिल गया है कि उनके मौजूदा कार्यकाल का स्वत: विस्तार नहीं होगा।

कोहली से जब कुंबले के अनुबंध के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा, ‘‘जब से मैं जानता हूं, तब से पिछले कई वर्षों से हर बार इसी तरह की प्रक्रिया को अपनाया जा रहा है। पिछली बार भी इसी तरह की प्रक्रिया का पालन किया गया था। कार्यकाल एक साल का था निश्चित रूप से यह प्रक्रिया भी वैसी ही है।’’ उन्होंने कहा, ‘‘इसलिए मुझे इसमें कुछ भी चीज अलग नहीं लगी। बोर्ड ने भी निश्चित रूप से यही प्रकिया अपनायी है। इसलिये मुझे इसके बारे में ज्यादा सूचना नहीं है क्योंकि इसके लिये एक समिति है जो ये फैसले करती है और वे इस बार भी वही स्वरूप अपना रहे हैं जो बीते समय में अपनाया जाता था।’’ ये भी पढ़ें: चैंपियंस ट्रॉफी: केन विलियमसन ने अपनी टीम को दी चेतावनी, कहा- गलती की कोई जगह नहीं

उल्लेखनीय है कि भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने भारतीय क्रिकेट टीम (पुरुष) के हेड कोच पद के लिए आवेदन मंगवाए हैं। आईसीसी चैंपियंस ट्रॉफी के खत्म होते ही मौजूदा कोच अनिल कुंबले का भारतीय टीम के साथ करार खत्म हो जाएगा। इस प्रक्रिया के लिए मौजूदा कोच अनिल कुंबले को प्रत्यक्ष प्रवेश मिलेगा। टीम इंडिया के कोच का चयन पूर्ण पारदर्शिता से हो इसके लिए प्रशासकों की समिति(सीओए) का एक नामांकित अधिकारी क्रिकेट सलाहकार समिति के साथ पूरी प्रक्रिया को देखेगा। बीसीसीआई की तीन सदस्यीय समिति में सचिन तेंदुलकर, सौरव गांगुली, और वीवीएस लक्ष्मण शामिल हैं। ये तीनों ही इंटरव्यू आयोजित करेंगे और किस उम्मीदवार को चयनित किया जाए इस संबंध में अपनी सलाह देंगे। इच्छुक उम्मीदवार अपना आवेदन ईमेल के माध्यम से 31 मई 2017 के पहले भेज सकते हैं।