विराट कोहली ने कई बार इस तरह के मुद्दों पर अपने विचार खुलकर सामने रखे हैं।  © IANS
विराट कोहली ने कई बार इस तरह के मुद्दों पर अपने विचार खुलकर सामने रखे हैं। © IANS

हाल ही में कर्नाटक की राजधानी बैंगलौर में नए साल की शाम हुई एक बेहद शर्मानाक घटना का वीडियो सामने आया है। इस फुटेज में कुछ लोग एक महिला के साथ छेड़छाड़ कर रहे हैं लेकिन कोई भी उसकी मदद के लिए आगे नहीं आ रहा है। लोग केवल दूर से देख रहे हैं। इस मामले पर भारत के टेस्ट कप्तान विराट कोहली ने अपना गुस्सा जाहिर किया है। उन्होंने ट्विटर पर एक वीडियो डाला है जिसमें उन्होंने कहा, “जो लोग किसी लड़की की मदद नहीं कर सकते हैं उन्हें खुद को मर्द कहने का कोई हक नहीं।” ये भी पढ़ें:विराट कोहली ने कहा मेरे कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ही रहेंगे

उन्होंने आगे कहा, “जो भी बैंगलौर में हुआ वह परेशान करने वाला है। इस तरह की कोई घटना किसी लड़की के साथ होते देख कर चुप खड़े रहना और उसकी मदद न करना कायरता पूर्ण कार्य हैं। ऐसे लोगों को खुद को मर्द कहने का कोई हक नहीं।” कोहली इससे पहले भी कई बार महिलाओं को समान अधिकार देने के मुद्दे पर अपने विचार रख चुके हैं। कोहली ने ट्विटर पर पोस्ट किए अपने दूसरे वीडियो में कहा, “ऐसी चीजें आज भी कुछ लोगों के दिमाग में सही हैं और इस तरह की स्थिति भयानक है। मैं ऐसे समाज का हिस्सा होने पर शर्मिंदा हूं। मुझे लगता है कि हमे अपने विचार बदलने चाहिए तभी समाज बदल सकेगा।” उन्होंने आगे कहा, “मैं ऐसे लोगों से पूछना चाहूंगा कि अगर भगवान न करे ऐसा कुछ उनके परिवार की किसी महिला के साथ हो, तब भी क्या वह ऐसे ही खड़े रहेंगे या उसकी मदद करेंगे। ऐसी चीजे होती हैं क्योंकि हम इसे होने देते हैं। लोगों को लगता है कि यह सब सही है।”  ये भी पढ़ें:साल 2016 में क्रिकेटरों द्वारा किए 10 सबसे खास ट्वीट

 

विराट ने यह भी कहा कि इस तरह की सोच को बढ़ावा देने वाले लोग भी गलत हैं। कोहली ने ऐसे लोगों से सवाल भी किया कि अगर आप उस लड़की के परिवार वाले होते तो आपको कैसा लगता।