भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) , बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली (Sourav Ganguly) और पूर्व सलामी बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग (Virender Sehwag) ने टीम इंडिया के पूर्व सलामी बल्लेबाज चेतन चौहान (Chetan Chauhan) के निधन पर शोक व्यक्त किया है. चौहान का कोविड-19 (COVID-19) संबंधित परेशानियों के चलते करीब 36 घंटे तक जीवन लाइफ सपोर्ट पर रखे जाने के बाद रविवार को निधन हो गया.

विराट ने जताई हैरानी 

कोहली इस पूर्व खिलाड़ी के निधन से काफी हैरान थे. उन्होंने लिखा, ‘चेतन चौहान के निधन की खबर सुनकर बहुत हैरान हूं. भगवान उनकी आत्मा को शांति दे, उनके परिवार के साथ मेरी प्रार्थना और संवेदनायें.’

इस साल को जल्द विदा करना चाहते हैं गांगुली 

बीसीसीआई  के अध्यक्ष सौरव गांगुली ने कहा कि इस साल हुए नुकसान को देखते वह चाहते हैं कि यह साल जल्द से जल्द खत्म हो जाए. गांगुली ने बीसीसीआई के शोक संदेश में कहा, ‘जब वह भारतीय क्रिकेट टीम के मैनेजर थे तो मैंने उनके साथ इतना अधिक समय बिताया. वह एक कड़े सलामी बल्लेबाज ही नहीं बल्कि ऐसे व्यक्ति थे जो काफी मजाकिया थे. इस साल को भुलाने की जरूरत है क्योंकि इसने काफी प्यारे लोगों को छीन लिया.’

सचिन ने कही ये बात 

महान क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar) ने ट्वीट किया, ‘चेतन भाई के निधन की खबर सुनकर दुखी हूं. वह मुझे हमेशा प्रेरणादायी बातें कहते थे, उन्होंने भारतीय टीम के साथ अपने क्रिकेट दिनों की कई कहानियां मुझे सुनाई थीं. भगवान उनकी आत्मा को शांति दे.’

क्रिकेट करियर खत्म करने के बाद चौहान दो बार सांसद भी रहे और उन्होंने दिल्ली एवं जिला क्रिकेट संघ के विभिन्न पदों पर काम किया. भारतीय कोच रवि शास्त्री ने लिखा,‘चेतन के निधन की खबर सुनकर बेहद दुखी हूं. वह जज्बे वाले सलामी बल्लेबाज थे और मुझे यकीन है कि उन्होंने ये लड़ाई भी अंत तक लड़ी होगी. उनके परिवार को संवेदनाएं. भगवान उनकी आत्मा को शांति दे.’

पूर्व भारतीय बल्लेबाज वीवीएस लक्ष्मण ने क्रिकेट और राजनीति दोनों में उनके योगदान की प्रशंसा की. उन्होंने ट्वीट किया, ‘चेतन चौहान सर के निधन की खबर सुनकर दुखी हूं. भारतीय क्रिकेट और राजनीति में उन्होंने अपार योगदान दिया. मेरी प्रार्थनायें उनके परिवार के साथ.’

पूर्व भारतीय कप्तान और महान स्पिनर अनिल कुंबले ने चौहान के साथ उनकी बातें याद कीं. उन्होंने कहा, ‘चेतन चौहान के निधन की खबर सुनकर दुखी हूं. 2007-08 के ऑस्ट्रेलिया दौरे पर हमारी बातचीत अच्छी तरह याद है. उनके परिवार के प्रति हार्दिक संवेदनायें.’

दिल्ली के वीरेंद्र सहवाग और गौतम गंभीर ने चौहान को श्रृद्धांजलि दी. सहवाग ने लिखा, ‘चेतन चौहान के परिवार और शुभचिंतकों को मेरी संवेदनायें.

ओम शांति.’ गंभीर ने ट्वीट किया, ‘चेतन चौहान के निधन की खबर सुनकर दुखी हूं. क्रिकेट और प्रशासन में उनके योगदान को हमेशा याद रखा जायेगा. उनके परिवार और प्रियजनों को भगवान शक्ति दे.’