Virat Kohli the way behaves at times does not do his team any good: Mark Taylor
Virat kohli @AFP

ऑस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान मार्क टेलर ने विराट कोहली के मैदान के बाहर के आचरण की तारीफ की है। उन्हें लगता है कि मैदान में भारतीय कप्तान के आक्रामक रवैये की खेल को जरूरत नहीं है।

टेलर ने कहा, ‘‘चार साल पहले जब मैं चैनल नाइन के साथ था तो मैं विराट कोहली का इंटरव्यू कर रहा था, तब मुझे उनके व्यक्तित्व के बारे में जानने का मौका मिला। उन्होंने ऐसा कुछ नहीं कहा था लेकिन जिस तरीके से उन्होंने खुद को पेश किया, वह शानदार था।’’

उन्होंने कहा, ‘‘हम टेस्ट से एक दिन पहले एडिलेड ओवल में स्टूडियो में शूटिंग कर रहे थे, तब रिहर्सल के लिए लाउडस्पीकर पर राष्ट्रगान तेज आवाज में शुरू हुआ और हमें ब्रेक लेने के लिए बाध्य होना पड़ा। कुछ दसेक मिनट बाद राष्ट्रगान खत्म हुआ तो भारत के मीडिया मैनेजर ने मुझे कहा कि आधे घंटे का समय खत्म हो गया है और कोहली को उठने का इशारा किया।’’

टेलर ने सिडनी मार्निंग हेराल्ड में अपने कॉलम में लिखा, ‘‘कोहली ने ऐसा करने के बजाय मुझसे पूछा कि क्या मुझे और समय चाहिए। मैंने उनसे कहा कि मैं उनसे और सवाल पूछना चाहता हूं। तो उन्होंने कहा, ‘चलो, हम बैठते हैं और इसे पूरा करते हैं’। मैंने सोचा कि यह शानदार था। ’’

टेलर ने कहा कि कोहली मैदान पर थोड़ा अलग था। उन्होंने कहा, ‘‘वह शानदार बल्लेबाज है लेकिन काफी आक्रामक है। मुझे हैरानी नहीं होगी, अगर ज्यादातर ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ियों को उनका दूसरा रूप देखने केा मिलेगा जो दुर्भाग्यपूर्ण है। वह टीम की कप्तानी आमतौर पर अच्छी तरह करता है, लेकिन कभी कभार वह जैसा व्यवहार करता है, वो उसके और उसकी टीम के लिये अच्छा नहीं है। ’’