Virat Kohli wants batsmen to replicate home form in Australia
virat kohli © AFP

भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली को टीम के गेंदबाजों से कोई समस्या नहीं है लेकिन वह चाहते हैं कि अगले महीने जब टीम ऑस्ट्रेलिया का दौरा करेगी तो उसके बल्लेबाज अपनी घरेलू फॉर्म को जारी रखेंगे।

गेंदबाजों ने पिछले कुछ समय से भारत के लिए घरेलू और विदेशी मैदान पर शानदार प्रदर्शन किया है, लेकिन बल्लेबाजों ने बार बार टीम को निराश किया है।

कोहली ने कहा कि वेस्टइंडीज को सीरीज में 2-0 से हराने के बाद बल्लेबाजों को भी गेंदबाजों की तरह अच्छे प्रदर्शन को जारी रखना चाहिए।

कोहली ने मैच के बाद पुरस्कार वितरण समारोह में कहा, ‘ मैं इन खिलाड़ियों को फिट और अच्छा खेल दिखाने के लिए बेताब देखकर सचमुच खुश हूं। अब बाकी का काम करना बल्लेबाजों पर निर्भर करता है। इस मैच में पहली पारी राजकोट में पिछली पारी से ज्यादा चुनौतीपूर्ण थी।’

दूसरे टेस्ट में वेस्टइंडीज के जेसन होल्डर और शैनोन गैब्रियल के आक्रमण के सामने भारतीय टीम पहली पारी में थोड़ी दबाव में आ गई लेकिन रिषभ पंत और अजिंक्य रहाणे ने 152 रन की भागीदारी निभाकर टीम को संभाला।

कोहली ने कहा, ‘ जिंक्स (अजिंक्य रहाणे) बहुत अच्छी बल्लेबाजी कर रहे हैं, उन्‍होंने नॉटिघंम में भी रन बनाए और हमने वो टेस्ट जीता। वह कुछ रन बनाना चाहता था। पंत के साथ उसकी साझेदारी शानदार रही और हम इसी तरह की कुछ और साझेदारियां देखना चाहेंगे।’

कप्तान ने उमेश यादव की तारीफों के पुल बांधे जो घरेलू मैदान पर टेस्ट में 10 विकेट लेने वाले भारत के तीसरे तेज गेंदबाज बन गए हैं। ऑस्ट्रेलियाई सीरीज से पहले उन्‍होंने चयनकर्ताओं के सामने मुश्किल बढ़ा दी हैं।

उन्होंने कहा, ‘ अगर आप इन तीन नए खिलाड़ियों (इंग्लैंड में हनुमा विहारी, पृथ्वी शॉ और पंत) को देखोगे तो आप पाओगे कि इन्होंने मौकों का पूरा फायदा उठाया है। मुझे लगता है कि ये सारी चीजें काफी सकारात्मक हैं। लेकिन इस टेस्ट के बाद से मैं उमेश को अलग स्थान पर रखना चाहूंगा।’

(इनपुट-एजेंसी)