सौरव गांगुली और वीरेंद्र सहवाग © Getty Images
सौरव गांगुली और वीरेंद्र सहवाग © Getty Images

चैंपियंस ट्रॉफी अपने रोमांचक दौर की ओर बढ़ रही है। इस टूर्नामेंट का फाइनल मुकाबला 18 जून को लंदन के ओवल मैदान पर खेला जाएगा। लेकिन इसी बीच दो पूर्व भारतीय बल्लेबाजों वीरेंद्र सहवाग और सौरव गांगुली के बीच एक महामुकाबला होगा। यह मुकाबला क्रिकेट का नहीं बल्कि 100 मीटर दौड़ का होगा। हालांकि, बाद में इसे 70 मीटर का कर दिया गया। अब यह देखना दिलचस्प होगा कि इन दो दिग्गजों में से किसके हाथ जीत लगती है।

लेकिन ये दौड़ के महामुकाबले की बात कहां से शुरू हुई। दरअसल, पिछले दिनों चैंपियंस ट्रॉफी के एक अंतरराष्ट्रीय मैच में दोनों सहवाग और गांगुली कॉमेंट्री कर रहे थे। इसी दौरान हंसी- मजाक करते हुए सहवाग ने गांगुली के करियर रिकॉर्ड पर चुटकी ली। सहवाग ने कहा कि गांगुली अपने जमाने में तेजी से रन नहीं ले पाते थे। इसके कारण वह रन आउट होते थे और टीम का स्कोर भी प्रभावित होता था।

इसके बाद तो गांगुली ने तेज पलटवार किया और उन्होंने सहवाग को तुरंत करारा जवाब देते हुए कहा, “मैंने आंकड़े निकलवाए हैं। सहवाग आपको पता है, मेरा विकटों के बीच दौड़ने का औसत 36% था जबकि आपका 24%, आप दर्शकों के बीच अफवाह फैलाते रहे हैं। यह गलत है।” इसके बाद दोनों ठहाके लगाकर हंसने लगे। वैसे सहवाग इसमें भी मजाक ढूंढने में पीछे नहीं रहे और कहा कि आपके आंकड़े निकलवाने के चक्कर में हमें दो ओवर और कॉमेंट्री करनी पड़ी। [ये भी पढ़ें: मैं बहुत महंगा हूं, बतौर कोच मुझे भारत ‘वहन’ नहीं कर सकता: वॉर्न]

इसके बाद गांगुली ने फिर से चुटकी ली और सहवाग से कहा, “अभी आपको मेरे सामने इंटरव्यू देना है, इसलिए आप सही से रहें और सत्य बात बोलें।” उल्लेखनीय है कि चैंपियंस ट्रॉफी के बाद टीम इंडिया के मौजूदा कोच अनिल कुंबले का कार्यकाल खत्म हो जाएगा। बीसीसीआई के नोटिफिकेशन जारी किए जाने के बाद 6 आवेदन आए हैं जिसमें वीरेंद्र सहवाग का नाम भी शामिल है। कोच चुनने की जिम्मेदारी सीएसी की होगी जिसके सदस्य वीवीएस लक्ष्मण, सचिन तेंदुलकर और सौरव गांगुली हैं। पिछली बार इन्होंने अनिल कुंबले को कोच पद के लिए चुना था। हालांकि, इस बार भी कुंबले दौड़ में हैं।