Virender Sehwag: Any middle order batsman should be ready to bat at number 4 in World Cup
© AFP

आईपीएल के खत्म होने से साथ ही भारतीय खिलाड़ी और बीसीसीआई विश्व कप की तैयारियों में लग गए हैं। टीम इंडिया के 15 सदस्यीय विश्व कप स्क्वाड का ऐलान पहले ही हो चुका है, जिससे ज्यादातर क्रिकेट समीक्षक संतुष्ट हैं, हालांकि लंबे समय से चली आ रही नंबर चार के बल्लेबाज की समस्या अब भी पूरी तरह से हल होती नहीं दिख रही है।

भारत के विश्व कप स्क्वाड में किसी एक खिलाड़ी को नंबर चार के लिए निश्चित नहीं किया गया है और पूर्व क्रिकेटर वीरेंदर सहवाग इसे सही रणनीति मानते हैं। सहवाग का कहना है कि टीम को नंबर चार के स्पॉट पर लचीलापन दिखाना होगा और मध्य क्रम के सभी बल्लेबाजों को नंबर चार पर खेलने के लिए तैयार रहना होगा।

टाइम्स ऑफ इंडिया को दिए इंटरव्यू में सहवाग ने कहा, “टीम हालात के हिसाब से (नंबर चार के बल्लेबाज का) फैसला लेगी। शुरुआती मैचों में विजय शंकर वहां बल्लेबाजी कर सकते हैं लेकिन टीम लचीली रहेगी। अगर आप विश्व कप जीतने की सोच रहे हैं तो आपको इस तरह की चीजों के बारे में ज्यादा नहीं सोचना चाहिए। मध्य क्रम का कोई भी बल्लेबाज नंबर चार, पांच या छह पर खेलने के लिए तैयार रहना चाहिए। लेकिन रोहित, शिखर और विराट में से किसी एक को लंबे समय तक बल्लेबाजी करनी होगी। किसी को एक छोर से टिके रहना होगा।”

विश्व कप के लिए फिट हुए केदार जाधव: रिपोर्ट

सहवाग ने कहा कि अगर खिलाड़ी बिना गलती किए साधारण क्रिकेट खेलेंगे तो टीम इंडिया विश्व चैंपियन बन सकती है। वहीं बाकी टीमों के जीतने की संभावना पर इस पूर्व विस्फोटक बल्लेबाज ने कहा, “वेस्टइंडीज ने अचानक से अच्छा खेलना शुरू कर दिया है। उनके पास कई पॉवर हिटर्स हैं। दक्षिण अफ्रीका कभी विश्व कप नहीं जीती है। वो यहां चोकर्स का तमगा हटा सकते हैं।”

सहवाग ने आगे कहा, “स्मिथ और वार्नर के वापस आने से ऑस्ट्रेलिया भी मजबूत दावेदार है और मेजबानों का क्या। 2015 विश्व कप के बाद इयोन मोर्गन की कप्तानी और कोच ट्रेवर बेलिस के अगुवाई में उन्होंने सीमित ओवर क्रिकेट में अपने आपको नई पहचान दी है। ये उनका टूर्नामेंट हो सकता है लेकिन भारतीय होने के नाते में मैं भारत को जीतता देखना चाहता हूं।”