वीरेंदर सहवाग © IANS
वीरेंदर सहवाग © IANS

पूर्व सलामी बल्लेबाज वीरेंदर सहवाग टीम इंडिया के मुख्य कोच बन सकते हैं। आप सोच रहे होंगे कि रवि शास्त्री के रहते सहवाग क्यों कोच बनने जा रहे हैं, दरअसल बीसीसीआई की सलाहकार समिति के साथ इंटरव्यू के दौरान सहवाग के विचार और दूरदर्शिता से तीनों ही सदस्य प्रभावित हुए इसलिए सहवाग को इस दौड़ में सबसे आगे माना जा रहा है। सोमवार को हुए इस इंटरव्यू के बाद एनडीटीवी ने सूत्रों के हवाले से लिखा है कि सहवाग का कोच बनना लगभग तय है। हालांकि कोई भी फैसला लेने से पहले समिति कप्तान विराट कोहली से बात करना चाहती है। हालांकि वह कोहली से कोच के चयन के लिए अनुमति नहीं मांगने वाली है।

समिति नए कोच का फैसला खुद ही करेगी, समिति के सदस्य सौरव गांगुली ने भी हाल ही में इस तरफ इशारा किया था। गांगुली ने एक प्रेस वार्ता में कहा था कि कोहली को ये समझना होगा कि कोच किस तरह काम करते हैं। इससे उनका मतलब साफ था कि कोहली नए कोच के चुनाव को लेकर अपनी मनमानी नहीं कर सकते हैं। इससे ये बात भी साफ हो गई है कि अब रवि शास्त्री कोच के पद की दौड़ में पिछड़ गए हैं। अनिल कुंबले के इस्तीफा देने के बाद जब उन्होंने कोच पद के लिए आवेदन दिया था तो उन्हें ही प्रमुख दावेदार माना जा रहा था लेकिन अब परिस्थितिया बदल चुकी हैं। [ये भी पढ़ें: टीम इंडिया के कोच की घोषणा के पहले विराट कोहली से बात करेगी सीएसी]

मुमकिन है कि सलाहकार समिति कोहली से मिलकर उन्हें नए कोच और उसकी योजनाओं के बारे में बताना चाहती हो। कारण जो भी हो लेकिन यह तय है कि कोहली के साथ बातचीत किए बिना कोच का नाम घोषित नहीं किया जाएगा।