Virender Sehwag: Retirement is MS Dhoni’s personal call
महेंद्र सिंह धोनी की कप्तानी में खेल चुके हैं वीरेंदर सहवाग (Getty images)

वेस्टइंडीज दौरे से नाम वापस लेकर दो महीने के ब्रेक पर गए भारतीय बल्लेबाज महेंद्र सिंह धोनी भारतीय सेनी की ड्यूटी से लौट आए हैं। हालांकि टीम इंडिया में उनके कमबैक को लेकर अब भी कुछ साफ नहीं है। युवा बल्लेबाज रिषभ पंत विंडीज दौरे पर तीनों फॉर्मेट में विकेटकीपिंग कर रहे हैं।

ऐसे में धोनी के संन्यास की अफवाहों को एक बार फिर हवा मिलने लगी है। वहीं धोनी के साथ लंबे समय तक क्रिकेट खेलने वाले पूर्व विस्फोटक बल्लेबाज वीरेंदर सहवाग का कहना है कि संन्यास धोनी का निजी फैसला है और इसे उनके ऊपर ही छोड़ दिया जाना चाहिए।

हिंदुस्तान टाइम्स से बातचीत में पूर्व दिग्गज ने कहा, “रिटायरमेंट धोनी का निजी फैसला है। अगर उसे लगता है कि वो फिट है और टीम के लिए योगदान दे सकता है तो खेलना जारी क्यों नहीं रख सकता, लेकिन अगर चयनकर्ताओं को लगता है कि एमएस योगदान नहीं दे सकता तो उन्हें उसे ये बता देना चाहिए कि हम आपको ये आखिरी सीरीज दे रहे हैं। ये बात की जानी चाहिए।”

टेस्ट क्रिकेट को रोमांचक बनाने के लिए अच्छी पिचों की जरूरत: सचिन तेंदुलकर

सहवाग का कहना है कि धोनी संन्यास को लेकर अगर विचार कर रहे हैं तो उन्हें ये बात चयनकर्ताओं तक पहुंचानी चाहिए। दोनों ही पक्षों में संवाद होना जरूरी है। पूर्व क्रिकेटर ने कहा, “चयनकर्ताओं और खिलाड़ी के बीच हमेशा संवाद होना चाहिए। मुझे नहीं पता है कि चयनकर्ताओं ने ऐसा किया है या नहीं।”

उन्होंने आगे कहा, “हमने केवल एमएसके प्रसाद का बयान पढ़ा है, जिसमें उन्होंने कहा कि धोनी को ये बता दिया गया है कि अब वो पहली पसंद नहीं हैं। इसका मतलब है कि वो पंत को पहले चुनेंगे और फिर दूसरे कीपर के बारे में सोचेंगे और धोनी को चुनेंगे। ये संभव नहीं है।”

स्टीव स्मिथ की कमी पूरी करना बेहद मुश्किल: मार्नस लाबुशेन

धोनी की कप्तानी में खेल चुके इस पूर्व बल्लेबाज ने कहा, “एक समय के बाद धोनी को फैसला लेना होगा और चयनकर्ताओं से बात करनी होगी और रिटायकमेंट मैच की मांग करनी होगी। ये तब होगा जब उसे लगेगा कि ये जाने का सही समय है।”