VVS Laxman Explains Why India Do Not Have An All-Rounder Like Kapil Dev In The Modern Era
वीवीएस लक्ष्मण. (PC- Twitter)

पूर्व भारतीय बल्लेबाज वीवीएस लक्ष्मण ने ​कपिल देव जैसा अदद ऑलराउंडर नहीं तैयार कर पाने के लिये देश के खिलाड़ियों पर अत्याधि​क कार्यभार को जिम्मेदार ठहराया. हार्दिक पंड्या जैसे खि​लाड़ियों की तुलना देश के पहले विश्व कप विजेता कप्तान कपिल देव से की जाती रही है. लक्ष्मण ने एक पुस्तक के यूट्यूब पर विमोचन के दौरान कहा, ”एक ऑलराउंडर की भूमिका निभाना बेहद मुश्किल होती है. कपिल पाजी ऐसे थे जो विकेट ले सकते थे और रन भी बना सकते थे. वह भारत के वास्तवि​क मैच विजेता थे. लेकिन वर्तमान समय में बहुत अधिक कार्यभार होने के कारण अदद आलराउंडर तैयार करना बेहद मुश्किल है.”

लक्ष्मण ने हार्दिक का नाम लिये बिना कहा, ”कुछ खिलाड़ी थोड़ी झलक दिखाते हैं क्योंकि वे दोनों कौशल पर काफी ध्यान देते हैं, लेकिन आखिर में अत्याधिक कार्यभार और भारतीय टीम की तीनों प्रारूपों में व्यस्तता के कारण इस कौशल को बनाये रखना बहुत मुश्किल होता है. वह खिलाड़ी​ जिसके पास अदद आलराउंडर बनने की क्षमता है दुर्भाग्य से चोटिल हो जाता है और उसे केवल बल्लेबाजी या गेंदबाजी करने को लेकर फैसला करना होता है.”

पीठ के ऑपरेशन के कारण लंबे विश्राम के बाद वापसी करने वाले हार्दिक ने यूएई में खेले गये पिछले इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में मुंबई इंडियन्स के लिये गेंदबाजी नहीं थी. ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ वनडे श्रृंखला में हार्दिक ने केवल पांच ओवर किये लेकिन वह टेस्ट शृंखला में नहीं खेले थे. वह इंग्लैंड के खिलाफ भी चार टेस्ट मैचों की श्रृंखला में नहीं खेले थे. उन्होंने टी20 श्रृंखला में गेंदबाजी की लेकिन पहले दो वनडे में गेंद नहीं थामी. हार्दिक ने अंतिम वनडे में गेंदबाजी की लेकिन मुंबई इंडियन्स की तरफ से वर्तमान आईपीएल में अभी तक उन्होंने गेंदबाजी नहीं की है. लक्ष्मण ने इसके साथ ही कहा कि किसी भी तरह के ऑलराउंडर की तुलना दिग्गज कपिल से करना सही नहीं है. उन्होंने कहा, ”मेरा मानना है कि कपिल देव केवल एक हो सकता है. यह तुलना खिलाड़ी पर दबाव बनाती है. केवल एक महेंद्र सिंह धोनी या एक सुनील गावस्कर हो सकता है.”

लक्ष्मण ने अक्टूबर—नवंबर में होने वाले टी20 विश्व कप में भारत के पहली पसंद के विकेटकीपर के लिये ऋषभ पंत का समर्थन किया. उन्होंने कहा, ”भारत के पास कई विकल्प हैं. संजू सैमसन अच्छी बल्लेबाजी, विकेटकीपिंग और कप्तानी का कम अनुभव होने के बावजूद राजस्थान रॉयल्स की अगुवाई कर रहा है. इसके अलावा इशान किशन है. केएल राहुल ने जब भी विकेटकीपिंग की जिम्मेदारी संभाली अच्छा प्रदर्शन किया. लेकिन मेरा मानना है विकेटकीपर बल्लेबाज की भूमिका के लिये ऋषभ पंत को चुना जाना चाहिए. मैं निश्चित तौर पर पंत का समर्थन करूंगा. (भाषा)