Wahab Riaz: I Quit Test Cricket After Being Ignored For Two Years

पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) के केंद्रीय अनुबंध से बाहर किए गए अनुभवी तेज गेंदबाज वहाब रियाज ने कहा है कि उन्होंने टेस्ट क्रिकेट से लगातार नजरअंदाज किए जाने के कारण इस पारंपरिक प्रारूप से संन्यास लेने का फैसला किया था.

माना जा रहा है कि वहाब को टेस्ट क्रिकेट छोड़ने के कारण ही केंद्रीय अनुबंध में जगह नहीं मिली लेकिन इस बाएं हाथ तेज गेंदबाज ने कहा कि उन्हें अक्टूबर 2018 के बाद पाकिस्तान की टेस्ट टीम में नहीं चुना गया जो इस प्रारूप से संन्यास लेने का मुख्य कारण था.

श्रेयस अय्यर बोले- युवाओं के रोल मॉडल हैं विराट कोहली

वहाब ने एक साक्षात्कार में कहा, ‘मैंने अक्टूबर 2017 में एक टेस्ट मैच खेला था और इसके बाद मुझे अगला मौका इसके ठीक एक साल बाद अक्टूबर में ही ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सपाट पिच पर मिला और इसके बाद मुझे टीम से बाहर कर दिया गया.’

‘मुझे लगा कि टी20 और वनडे पर ध्यान केंद्रित करना बेहतर होगा’

पाकिस्तान की तरफ से 27 टेस्ट, 89 वनडे और 31 टी20 अंतरराष्ट्रीय मैच खेलने वाले इस तेज गेंदबाज ने कहा, ‘अगर मैं नहीं खेल सकता तो फिर यह प्रारूप मेरे लिए नहीं बना है. मैं सीमित ओवरों की क्रिकेट पर ध्यान देने लगा क्योंकि मुझे लगा कि टी20 और वनडे पर ध्यान केंद्रित करना बेहतर होगा.’

2010 में टेस्ट में किया था डेब्यू 

टेस्ट क्रिकेट में 2010 में पदार्पण करने वाले वहाब और एक और अन्य तेज गेंदबाज मोहम्मद आमिर को पीसीबी ने पिछले महीने अपने नए केंद्रीय अनुबंध में जगह नहीं दी. इन दोनों का टेस्ट क्रिकेट से संन्यास लेना इसका मुख्य कारण माना गया था.

वहाब ने कहा, ‘मैं फिट हूं और अच्छी गेंदबाजी कर रहा हूं. मैं सीमित ओवरों की क्रिकेट में पाकिस्तान का प्रतिनिधित्व करना चाहता हूं. केंद्रीय अनुबंध में नहीं लेना यह क्रिकेट बोर्ड के हाथ में है.’