तेज गेंदबाज एस श्रीसंत ने आजीवन प्रतिबंध घटाकर सात साल किये जाने के बाद फिर से केरल की तरफ से रणजी ट्राॅफी में खेलने की इच्छा जाहिर की और उम्मीद जतायी कि एक दिन उन्हें फिर से भारतीय टीम से खेलने का मौका मिलेगा।

पढ़ें:- नए कोचिंग स्‍टाफ के लिए जोंटी रोड्स, संजय बांगड़, भरत अरुण ने दिए इंटरव्‍यू

बीसीसीआई लोकपाल डी के जैन ने श्रीसंत पर लगा प्रतिबंध कम करके सात साल कर दिया है जो 2020 में समाप्त हो जाएगा।

श्रीसंत ने पत्रकारों से कहा, ‘‘मैं इस फैसले से बहुत खुश हूं। मैं केरल रणजी टीम में वापसी करके टीम की जीत में योगदान देना पसंद करूंगा। मैं अगले महीने से अभ्यास शुरू कर दूंगा। केरल के युवा खिलाड़ी अच्छा प्रदर्शन कर रहे हैं और यह एक प्रेरणा है।’’

पढ़ें:- टेस्‍ट क्रिकेट में महेंद्र सिंह धोनी की बराबरी करने की दहलीज पर विराट

उन्होंने कहा, ‘‘मुझे उम्मीद है कि मैं भारतीय टीम में वापसी करने में सफल रहूंगा। मैंने टेस्ट क्रिकेट में 87 विकेट लिये हैं। मुझे 100 विकेट पूरे करने के लिये केवल 13 विकेट की दरकार है।’’