वकार यूनिस © AFP
वकार यूनिस © AFP

पूर्व पाकिस्तानी खिलाड़ी और दिग्गज गेंदबाज वकार यूनिस ने पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड को आगाह किया है कि वह चैंपियंस ट्रॉफी की जीत से ज्यादा खुश ना हों बल्कि उस जीत का क्रम बरकरार रखने के लिए कड़ी मेहनत करने पर ध्यान दें। वकार ने लाहौर में आयोजित खेल पत्रकार एसोसिएशन के कार्यक्रम के दौरान यह बयान दिया। उन्होंने माना कि युवा खिलाड़ियों ने 50 ओवर के खेल में काफी अच्छा प्रदर्शन किया है, साथ ही उन्होंने खिलाड़ियों को लंबे समय तक खेलने के लिए फिटनेस की ओर ध्यान देने के लिए भी कहा।

द डॉन अखबार ने यूनिस के हवाले से लिखा, “हमें आईसीसी चैंपियंस ट्रॉफी में मिली जीत से ज्यादा खुश नहीं होना चाहिए। हां हमने अच्छा प्रदर्शन किया था लेकिन इस सफलता को बरकरार रखने के लिए हमें बहुत काम करना है। युवा खिलाड़ियोंने चैंपियंस ट्रॉफी में अपने प्रदर्शन से सभी को प्रभावित किया और हमें उन्हें फिट रखना होगा ताकि वह लंबे समय तक अच्छा प्रदर्शन कर सकें।” [ये भी पढ़ें: वर्ल्ड XI के खिलाफ टी20 सीरीज के लिए पाकिस्तान टीम का ऐलान]

वकार ने कहा कि कोच मिकी ऑर्थर खिलाड़ियों की फिटनेस पर काफी ध्यान दे रहे हैं और खिलाड़ियों को उनका साथ देना चाहिए। उन्होंने कहा, “मिकी ऑर्थर भी खिलाड़ियों की फिटनेस पर काफी ध्यान देते हैं। मेरा मानना है कि फिट टीम सफलता की कुंजी है और हमें इसे बनाए रखना है। हमें पाकिस्तान ए टीम को भी विदेशी दौरों पर भेजना चाहिए और ट्रेनर्स को ये निश्चित करना चाहिए कि खिलाड़ियों की कड़ी मेहनत का फर्क घरेलू स्तर पर नजर आए जिससे हमें राष्ट्रीय टीम के लिए तैयार और प्रतिभाशाली खिलाड़ी मिलें।” [ये भी पढ़ें: खिलाड़ियों का प्रदर्शन उम्र के साथ बेहतर होता जाता है: डैन क्रिश्चियन]

पाक टीम को सितंबर में वर्ल्ड XI टीम के साथ तीन मैचों की टी20 सीरीज खेलनी है। इसे लेकर वकार भी काफी खुश हैं, उनका मानना है कि ये पाकिस्तान क्रिकेट के लिए शुभ संकेत है। उन्होंने कहा, “पाकिस्तान में अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट ना खेले जाने से पाक क्रिकेट काफी प्रभावित हुआ है लेकिन हमारा बुरा समय अब बीत चुका है। इंग्लैंड, ऑस्ट्रेलिया और साउथ अफ्रीका जैसी टीमें भी अब पाकिस्तान आएंगी।” वकार ने भारत के पाक दौरे को लेकर कुछ नहीं कहा। वह भी समझते हैं कि भले ही बड़ी-बड़ी टीमें पाकिस्तान में क्रिकेट खेलने आए लेकिन भारत का मुद्दा उनसे कहीं अलग और पेचीदा है।