wasim akram says people attacked me on social media for criticizing Mohammed Rizwan s approach

नई दिल्ली: पाकिस्तान के महान तेज गेंदबाज वसीम अकरम ने कहा कि जब उन्होंने रिजवान की आलोचना करने पर सोशल मीडिया पर आलोचनाओं का सामना करना पड़ा.

श्रीलंका ने 5 विकेट पर 58 के स्कोर से उबर कर 170 का स्कोर खड़ा किया. श्रीलंका की ओर से भानुका राजपक्षा ने 45 गेंद पर 71 रन की पारी खेली. राजपक्षा को वानिंडु हसरंगा का पूरा-पूरा साथ मिला.

पाकिस्तान की शुरुआत अच्छी नहीं हुई. बाबर आजम और फखर जमान जल्दी-जल्दी आउट हो गए. इसके बाद रिजवान ओर इफ्तिखार ने पाकिस्तानी पोकी को थोड़ा संभाला. हालांकि दोनों ही बल्लेबाज रनगति को कायम नहीं रख पाए. और रविवार को पाकिस्तान की हार के कई कारणों में से एक कारण यह भी था.

स्टार स्पोर्ट्स से बात करते हुए वसीम ने इस तरह की अप्रोच से नाराजगी जताई. और कहा कि इस तरह के खेल से पाकिस्तान के सलामी बल्लेबाज लंबा नहीं खेल पाएंगे.

अकरम ने कहा, ‘टूर्नमेंट की शुरुआत में मैंने कहा था कि सलामी बल्लेबाज खराब नहीं करेंगे लेकिन इस तरह के मुकाबलों में वह संघर्ष करेंगे. और आज ऐसा ही हुआ.’

संजय मांजरेकर भी इस चर्चा का हिस्सा थे. उन्होंने कहा कि वह टी20 क्रिकेट में एंकरिंग की अप्रोच को पसंद नहीं करते हैं. उन्होंने कहा कि रिजवान जैसा बल्लेबाज 16वें ओवर तक बल्लेबाजी करके 104 के स्ट्राइक रेट से नहीं खेल सकता.

उन्होंने कहा- ‘मैं टी20 क्रिकेट में एंकरिंग से बहुत सहमत नहीं हूं. यह ओवररेटेड है क्योंकि आपके पास 10 विकेट हैं और 20 ओवर हैं. मुझे भारतीय टीम की नई अप्रोच और श्रीलंका की अप्रोच पसंद है जिसमें कोई भी ऐंकर की भूमिका निभाने के लिए नहीं है. किसी एक खिलाड़ी को निशाना बनाना सही नहीं है लेकिन रिजवान पाकिस्तानी अप्रोच का उदाहरण हैं. रिजवान 16वें ओवर में 104 के स्ट्राइक रेट पर बल्लेबाजी नहीं कर सकते जब आपके सामने 171 रन का लक्ष्य हो.’

अकरम ने कहा कि पाकिस्तान विकेटकीपकर बल्लेबाज ने हांगकांग के खिलाफ भी ऐसा ही किया था और मैंने इसकी आलोचना की थी. इस महान खिलाड़ी ने कहा कि रिजवान की आलोचना करने पर सोशल मीडिया पर उन्हें आलोचनाओं का सामना करना पड़ा था.

अकरम ने कहा, ‘अगर आपको याद हो कि हांगकांग के खिलाफ भी रिजवान ने ऐसी ही बैटिंग की थी. मैंने उसकी आलोचना की थी. यह काफी स्वस्थ आलोचना थी. और लोगों ने सोशल मीडिया पर मुझ पर हमला कर दिया. पाकिस्तान के लोगों ने कहा कि मैं रिजवान का समर्थन नहीं करता. अगर आपको मेरी राय चाहिए तो मैं आपको सीधा और स्पष्ट उत्तर दूंगा. मैं वह इनसान हूं जो झूठ बोल दूंगा. जो दिखेगा वही बोलूंगा. मैं काले को काला और सफेद को सफेद कहूंगा.’