एमएस धोनी की कप्तानी में भारत ने न्यूजीलैंड के खिलाफ सीरीज में जीत हासिल की थी © Getty Images
एमएस धोनी की कप्तानी में भारत ने न्यूजीलैंड के खिलाफ सीरीज में जीत हासिल की थी © Getty Images

भारतीय कप्तान महेंद्र सिंह धोनी के करियर को लेकर कई बार बहस हो चुकी है। बहस इस बात की क्या एमएस धोनी को खेल के सभी प्रारूपों में कप्तानी विराट कोहली को सौंप देनी चाहिए। इस बहस में कई पूर्व खिलाड़ियों ने अपनी-अपनी बात रखी। सभी का अलग-अलग नजरिया भी रहा। अब इसी बहस में पाकिस्तान के पूर्व विकेटकीपर बल्लेबाज वासिम बारी भी कूद गए हैं। वासिम बारी ने कहा कि धोनी भारतीय टीम के बहुत ही बहुमूल्य खिलाड़ी हैं और वह भारत के लिए बेहद उपयोगी भी हैं।

बारी ने कहा ‘धोनी जब तक चाहें तब तक उन्हें खेलते रहना चाहिए, मेरे ख्याल से धोनी ने जब टेस्ट क्रिकेट को अलविदा कहा था तो उनके जेहन में सीमित ओवरों में अच्छा करना और अपना करियर लंबा खीचना था। जब आपकी उम्र 30 के बीच होती है तो आपका शरीर पहले के मुकाबले फिट नहीं रहता उस हिसाब से धोनी का टेस्ट से संन्यास लेना अच्छा फैसला था। मैं धोनी का बहुत बड़ा प्रशंसक हूं, धोनी 35 साल की उम्र में 20 साल के युवा की तरह विकेटों के बीच में दौड़ लगाते हैं, मुझे उनके खेलने का तरीका बेहद पसंद है। जहां बारी धोनी का पक्ष करते दिखे तो उन्होंने कोहली को भी बेहतरीन कप्तान बताया।’ भारत बनाम इंग्लैंड, पहले टेस्ट का स्कोरकार्ड जानने के लिए क्लिक करें…

बारी ने कहा कि विराट कोहली के कप्तानी करने का तरीका बिल्कुल अलग है। कोहली टीम में नयापन लाए हैं और बतौर बल्लेबाज वह टीम के सामने उदाहरण भी पेश करते हैं जो उनकी खासियत है। भारत और पाकिस्तान की टीमें टेस्ट क्रिकेट में आईसीसी रैंकिंग में नंबर एक और नंबर दो पर हैं। बारी ने कहा कि हम नंबर दो पर हैं और रैंकिंग खेल का ही हिस्सा है जिसमें लगातार बदलाव होता रहता है। हमें सिर्फ इस बात पर गौर करना चाहिए कि पाकिस्तान इस समय बेहतरीन खेल दिखा रही है। जब रोहित शर्मा ने खेली थी वनडे क्रिकेट में 264 रनों की पारी