हार्दिक पांड्या © Getty Images
हार्दिक पांड्या © Getty Images

दिल्ली टी20 में भले ही हार्दिक पांड्या शून्य पर आउट हो गए लेकिन जब फील्डंग की बारी आई तो उन्होंने एक शानदार कैच पकड़ते हुए इसकी भरपाई भी कर दी। यह कैच बेहद शानदार था, इस तरह से अगर इस कैच को साल 2017 का सबसे बेहतरीन कैच कहा जाए तो इसमें कोई अतिश्योक्ति नहीं होगी। यह बात पारी के दूसरे ओवर की है। युजवेंद्र चहल की गेंद को मार्टिन गप्टिल ने स्ट्रेट बाउंड्री की ओर लॉफ्ट कर दिया, गेंद हवा में काफी उठ गई।

यह देखकर हार्दिक पांड्या जो लॉन्ग ऑफ में लगे थे, वह कैच पकड़ने के लिए दौड़े, चूंकि वह गेंद से खासे दूरी पर थे ऐसे में लगा कि वह कैच नहीं पकड़ पाएंगे। लेकिन पांड्या ने हवा में छलांग लगा दी और एक असंभव कैच को पकड़ लिया। पांड्या का यह कैच कुछ वैसा ही था जैसा महम्मद कैफ ने साल 2003 में पाकिस्तान के खिलाफ पकड़ा था।

दिल्ली टी20 में टीम इंडिया ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 20 ओवरों में 202/3 का स्कोर बनाया। टीम इंडिया की ओर से रोहित शर्मा और शिखर धवन ने 80-80 रन बनाए। दोनों ने पहले विकेट के लिए 158 रनों की रिकॉर्ड साझेदारी निभाई और टीम इंडिया को बड़े स्कोर की ओर ले जाने में अहम भूमिका निभाई। वैसे न्यूजीलैंड की ओर से ट्रेंट बोल्ट सबसे महंगे साबित हुए और उन्होंने 4 ओवरों में 49 रन दे डाले। वहीं, टिम साउदी ने 43 रन दे डाले। न्यूजीलैंड की ओर से ईश सोढ़ी ने सबसे ज्यादा 25 रन देकर 2 विकेट झटके, वहीं बोल्ट ने 49 रन देकर 1 विकेट लिया।

 

ये दूसरा मौका है जब दोनों भारतीय ओपनर्स ने एक साथ एक ही टी20I में 50 से अधिक रन बनाए हैं। इसके पहले ये साल 2007 में इंग्लैंड के खिलाफ डरबन में हुआ था जब गंभीर ने 58 और सहवाग ने 68 रन बनाए थे। वहीं इंटरनेशनल टी20 क्रिकेट में धवन और रोहित ने लंबे समय के बाद 50 से ज्यादा की साझेदारी निभाने में सफलता हासिल की है। दोनों ने 12 पारियों के बाद इस मैच में धमाका किया है।