‘We all got a lot off our chests’: Australian coach Justin Langer on talks with players
जस्टिन लैंगर (Getty Images)

ऑस्ट्रेलिया क्रिकेट टीम के कोच जस्टिन लैंगर और खिलाड़ियों के बीच चल रहा मतभेद आखिरकार किसी नतीजे पर पहुंचा है। ऐसा कहना है कोच लैंगर का, जिन्होंने खिलाड़ियों के साथ एडिलेड में होटल क्वारंटाइन होने के दौरान मौजूदा स्थिति की बारीकियों पर चर्चा की।

वेस्ट ऑस्ट्रेलिया के एक अखबार से बातचीत में लैंगर ने बताया कि खिलाड़ियों के साथ बातचीत सार्थक रही। उन्होंने कहा, “हम सभी ने अपने मन में दबी हुई सारी बातें कह दी। मुझे लगता है कि हम अब बेहतर स्थिति में हैं।”

लैंगर ने कई कोचिंग मेंटर्स और दोस्तों से भी सलाह मांगी। उन्होंने कहा, “फिलहाल स्थिति बहुत कठिन है, लेकिन मुझे विश्वास है कि मैं इससे बेहतर कोच बनूंगा।”

लैंगर से कई मौकों पर बात करने वालों में से एक, पूर्व कप्तान और उनके पुराने दोस्त रिकी पोंटिंग थे। इस पर पॉन्टिंग ने 2GB रेडियो से कहा, “जैसा कि मैंने जस्टिन को वास्तव में स्पष्ट कर दिया था कि जब आप ऑस्ट्रेलियाई खेल में उस स्थिति में होते हैं, चाहे आप एक हाई-प्रोफाइल कोच हों या किसी राष्ट्रीय टीम के कप्तान, अगर आपको परिणाम नहीं मिल रहे हैं तो आपको नकारात्मकता की उम्मीद करनी होगी।”

India vs England: ऑस्ट्रेलियाई दिग्गज को भरोसा- जल्दी ही शतक जड़ते दिखाई देंगे Virat Kohli

लैंगर ने अब अपना ध्यान आगामी टी20 विश्व कप और एशेज की ओर लगाया है, ये उम्मीद करते हुए कि टीम का प्रदर्शन खुद के लिए बोलेगा। उन्होंने कहा, “जब आप जीतते हैं, तो हर कोई खुश होता है और चीजों के साथ आगे बढ़ता है, लेकिन जब आप हारते हैं, तब उंगली उठाना शुरू हो जाता है और लोग बहाने ढूंढते हैं।”

कोच ने आगे कहा, “हाल के दिनों में हमने काफी मुश्किलों का सामना किया है लेकिन हमने कुछ समय पहले ही एशेज को रीटेन किया था और कुछ समय पहले टेस्ट और टी20 क्रिकेट में नंबर-1 पर थे। जीत की ओर लौटो और आप कुछ और के बारे में नहीं सुनेंगे।”