इंडियन टी20 लीग में दूसरे मुकाबले में दिल्ली में खेलते हुए घरेलू टीम को मौजूदा चैंपियन चेन्नई से हार का सामना करना पड़ा। इस मुकाबले में युवा विकेटकीपर रिषभ पंत से एक और आतिशी पारी की उम्मीद की जा रही थी। दिल्ली की टीम ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 6 विकेट पर 147 रन का स्कोर खड़ा किया था। चेन्नई ने इसे 19.4 ओवर में 4 विकेट खोकर हासिल कर लिया।

मुंबई के खिलाफ 78 रन की तूफानी पारी खेलने वाले पंत चेन्नई के खिलाफ 13 गेंद पर 25 रन बनाकर आउट हुए। पंत ने इस पारी में दो चौके लगाए और एक छक्का भी जड़ा। छक्का लगाने की कोशिश में ही वह ड्वेन ब्रावो की गेंद पर शार्दुल ठाकुर के बेहतरीन कैच पर आउट हुए। उनके जल्दी आउट होने की वजह से दिल्ली महेंद्र सिंह धोनी की टीम के खिलाफ बड़ा स्कोर खड़ा करने में नाकाम रही।

पढ़ें:- कोटला में हार पर कप्‍तान श्रेयस बोले ‘हमने 10-15 रन कम बनाए’

दिल्ली के कोच रिकी पोंटिंग का मानना है कि शिखर धवन को पावरप्ले में जिम्मेदारी निभानी चाहिए थी क्योंकि रिषभ पंत के लिए हर दिन धमाकेदार बल्लेबाजी करना संभव नहीं है। दिल्ली मंगलवार को चेन्नई से छह विकेट से हार गई थी। टीम के कोच पोंटिंग ने कहा, ”पंत के आउट होने के बाद दिल्ली की पारी लड़खड़ा गई रिषभ पंत से हर दिन बड़े स्कोर की उम्मीद नहीं कर सकते हैं।”

पढ़ें:- दिल्ली के गेंदबाज इशांत और रबाडा से टकराए शेन वॉटसन

उन्होंने कहा, ‘‘नहीं, हम रिषभ से हर दिन मुंबई जैसी पारी की उम्मीद नहीं कर सकते। कोई भी ऐसा नहीं कर सकता है। कोई भी हर दिन 20-30 गेंद पर 78 रन नहीं बना सकता है। केवल रिषभ ही नहीं कॉलिन इंग्राम के पास भी मौका था। श्रेयस अय्यर के पास फिर से अच्छा अवसर था।’’