We didn’t think of stepping away from the game, says Joe Root
ECB/Twitter

एजबेस्टन टेस्ट में भारत की जीत लगभग तय नजर आ रही थी लेकिन जो रूट और बेयरस्टो ने चौथे विकेट के लिए 269 रनों की साझेदारी करते हुए 7 विकेट से मुकाबला अपने नाम कर लिया। भारत ने 378 रनों का टारगेट दिया था जिसे मेजबान इंग्लिश टीम ने 5वें दिन पहले ही सेशन में रूट और बेयरस्टो के नाबाद शतक से 76.4 ओवरों में हासिल कर लिया। रूट ने नाबाद 142 और बेयरस्टो ने नाबाद 112 रन बनाए। इस तरह 5 मैचों की सीरीज 2-2 की बराबरी पर समाप्त हुई।

इंग्लैंड की शानदार जीत में अहम भूमिका निभाने के बाद रूट ने अपने कप्तान बेन स्टोक्स और टीम के साथी खिलाड़ियों की जमकर तारीफ की।  पूर्व इंग्लिश कप्तान जो रूट ने कहा, “मुझे बल्लेबाजी करना पसंद है। यह बहुत आसान लगता है। पिछले चार हफ्तों में माहौल बहुत अच्छा रहा और टीम के खिलाड़ियों ने काफी आनंद लिया। जब हम स्कोर का पीछा कर रहे थे तो हमारी मानसिकता साफ थी और हमें पूरा विश्वास था। पीछे हटने के बारे में बिल्कुल नहीं सोचा था। हमारे टीम में कई शानदार खिलाड़ी हैं और स्टोक्स सभी को सपोर्ट करते हैं। हमारी जिम्मेदारी है कि हम सभी का मनोरंजन करें और इसे मजेदार बनाए रखें।”

रूट ने आगे कहा, “जॉनी को बल्लेबाज़ी करते हुए देख कर मजा आता है। मैं ये मानता हूं कि आपको हर समय सफलता नहीं मिलने वाली है। आप हमेशा चाहते हैं कि एक छोटे बच्चे की तरह अपने खेल का आनंद लें और यही मेरे करियर का सबसे सुखद हिस्सा है। न्यूजीलैंड के खिलाफ शानदार प्रदर्शन के बाद हम आत्मविश्वास से लबरेज हैं। सलामी बल्लेबाजों ने हमें जो शुरुआत दिलाई, वह शानदार थी और उन्होंने फिर दबाव बनाया। इसने हमारे लिए टारगेट को चेज करना आसान बना दिया।”