We don’t want to be dependent on Virat Kohli all the time: Bhuvneshwar kumar

भारतीय टीम को न्यूजीलैंड के खिलाफ सीरीज के चौथे वनडे में 8 विकेट से हार का सामना करना पड़ा। हैमिल्टन में खेले गए मुकाबले में पूरी भारतीय टीम महज 92 रन ही बना पाई। तेज गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार ने मैच के बाद इस हार को टीम के लिए एक सबक बताया।

भुवनेश्वर से पूछा गया कि क्या न्यूजीलैंड ने भारत की कमजोरी का खुलासा कर दिया, ‘‘नहीं ऐसा नहीं है। हम इंग्लैंड, दक्षिण अफ्रीका और ऑस्ट्रेलिया में खेले और हमने वास्तव में अच्छा प्रदर्शन किया।’’

पढ़ें:- शुभमन वनडे डेब्यू करने वाले 227वें भारतीय, धोनी ने दिया कैप

उन्होंने कहा, ‘‘मैं कहना चाहता हूं कि उन्होंने वास्तव में बहुत अच्छी गेंदबाजी की तथा ऐसी गेंद डाली जिनको खेलना नामुमकिन था और हां कुल मिलाकर उन्होंने हमें पस्त कर दिया था।’’

भारत ने 3-0 की अजेय बढ़त लेने के बाद कप्तान विराट कोहली को आराम दिया जबकि पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी मांसपेशियों में खिंचाव के कारण नहीं खेल पाए। भारत ने शुभमान गिल को डेब्यू का मौका दिया जबकि बायें हाथ के तेज गेंदबाज खलील अहमद को भी मोहम्मद शमी की जगह टीम में रखा।

भुवनेश्वर ने स्वीकार किया कि भारत को इस मैच में कोहली की कमी खली। उन्होंने कहा, ‘‘इस तरह के विकेट पर आपको हमेशा कोहली की कमी खलेगी लेकिन इसके साथ ही यह शुभमान गिल के लिये भी मौका था जिसने उनका स्थान लिया। उन्होंने (कोहली) जैसा प्रदर्शन किया है वह लाजवाब है लेकिन हम हमेशा उन पर निर्भर नहीं रहना चाहते हैं।’’

भुवनेश्वर से पूछा गया कि क्या मध्यक्रम के कुछ बल्लेबाज मौके का फायदा उठाने में नाकाम रहे, उन्होंने कहा, ‘‘हम केवल एक मैच के बाद ऐसा नहीं कह सकते। यह बल्लेबाजी के लिये मुश्किल विकेट था। यह मौका गंवाना नहीं था लेकिन यह हम सबके लिये सबक है।’’