शिखर धवन © Getty Images
शिखर धवन © Getty Images

मुम्बई। भारतीय क्रिकेट टीम के सलामी बल्लेबाज शिखर धवन ने कहा है कि अपनी मेजबानी में टी-20 विश्व कप खेल रहे होने के कारण भारतीय टीम पर अपेक्षाओं और उम्मीदों का दबाव है लेकिन उनके साथी इस दबाव को साथ मिलकर झेलेंगे और बेहतरीन प्रदर्शन करेंगे। टी-20 विश्व कप का आयोजन पहली बार भारत में हो रहा है। भारत ने 2007 में यह खिताब जीता था। 2011 में भारत ने अपनी मेजबानी में 50 ओवर के विश्व कप का ताज भी पहना था। धवन ने दक्षिण अफ्रीका के साथ शनिवार को वानखेड़े स्टेडियम में आयोजित अभ्यास मैच के बाद स्वीकार किया कि उनकी टीम पर उम्मीदों का दबाव है लेकिन यह दबाव किसी एक खिलाड़ी पर नहीं है। ऐसे में सब साथ मिलकर इस दबाव से आगे निकलकर अच्छा खेल दिखाएंगे। भारत बनाम दक्षिण अफ्रीका अभ्यास मैच फुल स्कोरकार्ड जानने के लिए क्लिक करें…

धवन ने कहा, “हमें खिताब का दावेदार माना जा रहा है। इसे लेकर हम पर उम्मीदों का दबाव है लेकिन यह किसी एक पर नहीं है। हम इस दबाव को साथ मिलकर झेलेंगे” धवन ने कहा कि टीम में काफी एकता है और सभी एक परिवार की तरह रहते हैं। बकौल धवन, “हम एक परिवार की तरह रहते हैं। परिवार की ही तरह हम परेशानी को बांट लेंगे। घर में खेल रहे होने के कारण अपने लोगों की अपेक्षाएं साथ चलती हैं। हम उन्हें निराश नहीं करेंगे।” भारत को विश्व कप में ग्रुप स्तर पर अपना पहला मैच 15 मार्च को नागपुर में न्यूजीलैंड के साथ खेलना है। भारतीय टीम टूर्नामेंट के पहले खेले गए पहले दो अभ्यास में से एक में जीत दर्ज की वहीं दूसरे मैच में उन्हें चार रनों से हार का सामना करना पड़ा। लेकिन इन दोनों मैचों में भारतीय बल्लेबाजों ने बेहतरीन बल्लेबाजी का मुजाहिरा पेश किया है। ऐसे में ये कहना सही होगा कि भारतीय टीम से अन्य टीमों को टूर्नामेंट में बेहद सावधान रहना होगा।