भारत के खिलाफ पहले टी20 में एकतरफ जीत हासिल करने के बाद इंग्लैंड के कप्तान इयोन मोर्गन (Eoin Morgan) बेहद खुश हैं। अहमदाबाद में खेले गए पहले टी20 मैच में 8 विकेट से जीत हासिल कर इंग्लैंड ने पांच मैचों की सीरीज में 1-0 से बढ़त हासिल कर ली है।

कप्तान मोर्गन जानते हैं कि मेजबान टीम ने जो रूट अगुवाई में भारत के खिलाफ टेस्ट सीरीज हारी है लेकिन उनका कहना है कि इससे टी20 या वनडे सीरीज पर असर नहीं पड़ेगी।

पहले टी20 में जीत के बाद मोर्गन ने कहा, “मेरे लिए ये एकदम अलग फॉर्मेट है। हम ऐसे कई दौरों पर गए हैं, जहां पहले सीमित ओवर फॉर्मेट सीरीज हुई है और उन्होंने अच्छा नहीं खेला है और इसका असर टेस्ट मैचों पर नहीं पड़ा है।”

कप्तान मोर्गन ने मैन ऑफ द मैच रहे तेज गेंदबाज जोफ्रा आर्चर की जमकर तारीफ की। आर्चर ने चार ओवर में 23 रन देकर तीन विकेट लिए, जिसमें केएल राहुल का अहम विकेट भी शामिल था।

इस पेसर के बारे में मोर्गन ने कहा, “जोफ्रा की ताकत ये है कि वो काफी तेज गति से गेंदबाजी कर सकता है लेकिन निश्चित तौर पर मार्क वुड की सबसे बड़ी ताकत ये है कि वो बहुत ज्यादा तेज गति से गेंदबाजी कर सकते हैं। ऐसा हमेशा कर पाना मुश्किल होता है लेकिन जब वो इस तरह से गेंदबाजी करता है जैसी उसने इस मैच में की तो ये बेहद मनोरंजक होता है।”

गेंदबाजी अटैक के बारे में कप्तान ने आगे कहा, “इससे बेहतर प्रदर्शन की उम्मीद नहीं कर सकता हूं, खासकर कि गेंदबाजी अटैक से। विकेट वैसा ही था जैसा हमने सोचा था। हमारी योजना साधारण थी- एक ही लेंथ पर सीधी गेंद कराएं।”

गेंदबाजों के बाद इंग्लैंड के बल्लेबाजों ने भी शानदार प्रदर्शन किया, खासकर कि जेसन रॉय ने। इस पर मोर्गन ने कहा, “टीम के अंदर अच्छी प्रतिद्वंदिता है और ये रन बनाने वाले किसी भी खिलाड़ी के लिए अच्छा है। बल्लेबाजी विभाग की तरह गेंदबाजी विभाग में भी प्रतियोगिता रहती है। इस सीरीज के दौरान हम कई चुनौतियों का सामना करेंगे और ये जरूरी है कि हम अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करें।”