We saw a bit of Aussie humour – call it sledging: Justin Langer
Virat Kohli and Tim Paine (File Photo) @ Twitter

टिम पेन और विराट कोहली के बीच शाब्दिक जंग कोच जस्टिन लैंगर को ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट के शीर्ष दिनों की याद दिलाती है जो इसे ऑस्ट्रेलियाई मजाक की झलक के रूप में देखते हैं।

लैंगर ने सोमवार को कहा, ‘‘मुझे यह देखकर अच्छा लगा। हमें इसमें ऑस्ट्रेलियाई मजाक की झलक नजर आई- इसे छींटाकशी कह लो, बहस, या जो आपको पसंद हो। इसमें थोड़ा मजाक था और हमें इसके लिए स्वयं पर गर्व है। मैंने ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट के जो शानदार दिन देखे हैं, ये उसी की तरह है।’’

उन्होंने कहा, ‘‘इसमें इतना अधिक मजा है, यही कारण है कि जब लोग मुझे कहते हैं कि मैदान पर कोई बात नहीं होनी चाहिए तो मैं कहता हूं कि यह इसे उबाऊ बना देगा, जैसे सपाट पिच पर खेलना।’’

भारतीय कप्तान कोहली की पर्थ में दूसरे टेस्ट में अपने ऑस्ट्रेलियाई समकक्ष पेन के साथ स्‍लेजिंग चर्चा का विषय बनी थी। उन्होंने कहा, ‘‘इसके लिए गुस्सा और अभद्र होने की जरूरत नहीं है, लेकिन जब इस तरह का मजाक होता है तो हमें स्वयं के लिए खड़े होने का मौका भी मिलता है। यह बेहद महत्वपूर्ण है।’’

ऑस्ट्रेलियाई कोच ने कहा, ‘‘यह चीजों को करने का ऑस्ट्रेलियाई तरीका भी है। हमें स्वयं के लिए खड़ा होना होगा। मुझे लगता है कि टिम ने इसे जिस तरह किया, उससे मैं टिम की कप्तानी से प्रभावित हूं।’’

पढ़े:- बॉक्सिंग डे टेस्ट में शतक बनाने का पूरा यकीन: अजिंक्य रहाणे

लैंगर ने हैरानी जताई कि आईसीसी ने पर्थ की पिच को ‘औसत’ करार दिया लेकिन वह तीसरे टेस्ट के लिए मेलबर्न की पिच में सुधार के प्रयासों से खुश हैं। उन्होंने कहा, ‘‘मैं बेहद हैरान था (पर्थ की रेटिंग को लेकर)। कुछ गेंद नीची रही लेकिन मुझे लगता है कि यह रोमांचक टेस्ट था। यह पर्थ की सबसे तेज पिच थी जो मैंने देखी और मैं लंबे समय से इसे देख रहा हूं।’’

मेलबर्न क्रिकेट ग्राउंड की पिच के बारे में लैंगर ने कहा, ‘‘पिच पर कुछ घास देखकर अच्छा लग रहा है। मैं हमेशा से कहता आया हूं कि टेस्ट क्रिकेट में सबसे महत्वपूर्ण चीज पिच है। अगर आपके पास शानदार पिच होगी तो गेंद और बल्ले के बीच मुकाबला होगा और फिर टेस्ट क्रिकेट जीवंत रहेगा और अच्छा करेगा।’’

पढ़ें:- विराट एक बार 20-30 रन बना ले तो वो शतक पूरा करता है: अनिल कुंबले

उन्होंने कहा, ‘‘अगर हम सपाट पिचों पर खेलेंगे तो फिर यह उबाऊ मैच हो जाएगा। उम्मीद करते हैं कि गेंद और बल्ले के बीच मुकाबला होगा क्योंकि यह महत्वपूर्ण है, इस सीरीज के लिए ही नहीं बल्कि विश्व क्रिकेट के लिए भी।’’