we still played very well despite missing David warner, Jonny Bairstow: Kane williamson
DC vs SRH @ BCCI

दिल्‍ली के खिलाफ एलिमिनेटर मैच में हैदराबाद को महज दो रन से हार का सामना करना पड़ा। मैच के बाद कप्‍तान केएन विलियमसन ने माना कि टीम को सलामी बल्‍लेबाज डेविड वार्नर और जोनी बेयरस्‍टो की कमी खल रही है, लेकिन इसके बावजूद भी टीम अच्‍छा खेल दिखा रही है।

विश्‍व कप की तैयारियों के चलते वार्नर ऑस्‍ट्रेलिया और बेयरस्‍टो इंग्‍लैंड लौट चुके हैं। दोनों ही खिलाड़ियों ने मौजूदा सीजन में टीम के लिए शानदार प्रदर्शन किया है। वार्नर ने इस सीजन में 12 मैचों में 692 रन बनाए तो बेयरस्‍टो ने 10 मैचों में 445 रन अपने नाम किए। वार्नर अब भी ऑरेंज कैप पर कब्‍जा जमाए बैठे हैं।

केन विलियमसन ने कहा, “वार्नर और बेयरस्‍टो जब टीम के साथ थे तो काफी शानदार थे। हम पिछले दो-तीन मैचों से उनके बिना खेल रहे हैं। टीम उनकी कमी महसूस कर रही है, लेकिन इसके बावजूद भी हम अच्‍छा प्रदर्शन कर रहे हैं। हम बस आज लाइन के दूसरी तरफ नहीं पहुंच पाए। पिछली बार हमारे सामने इस तरह के मैच आए थे तो हमने जीत दर्ज की थी। इस बार हम ऐसा नहीं कर पाए हैं। एक फ्रेंचाइजी के तौर पर हम अच्‍छा खेले। टीम में विकास का काम आगे भी चलता रहेगा।”

हैदराबाद के कप्‍तान ने कहा, “ये पिच उन पिचों में से एक है जहां पर काफी करीबी मैच देखने को मिले हैं। मैच के पहले हॉफ के बाद मुझे लगा कि हमने प्रतिस्‍पर्धी लक्ष्‍य दिया है। मुझे पता था कि पावरप्‍ले के बाद इस लक्ष्‍य को बनाना इतना आसान नहीं रहेगा। हम मैच में काफी अच्‍छी स्थिति में आ गए थे, लेकिन अंत में दिल्‍ली को जीत मिली। आज का दिन थोड़ा निराशाजनक रहा।”

पहले बल्‍लेबाजी करते हुए हैदराबाद ने निर्धारित 20 ओवरों में 162/8 रन बनाए। लक्ष्‍य का पीछा करने के दौरान दिल्‍ली की तरफ से पृथ्‍वी शॉ 56(38) ने अर्धशतकीय पारी खेली। अंत में 21 गेंद पर 49 रन बनाकर रिषभ पंत ने टीम को जीत के बेहद करीब पहुंचाया।

विलियमसन ने कहा, “श्रेयस अय्यर की टीम इस मैच में जीत की हकदार थी। दिल्‍ली ने शानदार प्रदर्शन किया। उनकी टीम काफी मजबूत है। उन्‍होंने अच्‍छी शुरूआत की और मैच को अच्‍छे से आगे लेकर गए। उनके पास क्‍वालिटी प्‍लेयर्स हैं। जैसा की उम्‍मीद थी, हम उनको पीछे धकेलते हुए खुद आगे बढ़े, लेकिन मैच में हम कैच पकड़ने और गेंदबाजी में उतने अच्‍छे नहीं रहे। हमने अच्‍छा प्रदर्शन नहीं किया। ये हमारा सर्वश्रेष्‍ठ नहीं है। कुछ चीजों में परिवर्तन से ये जीत का लक्ष्‍य हो सकता था।”