वेस्टइंडीज के दिग्गज ऑलराउंडर खिलाड़ी ड्वेन ब्रावो (Dwayne Bravo) ने गुरुवार को ऐलान किया है कि वो ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ अपना आखिरी टी20 विश्व कप मैच खेलने के बाद  संन्यास ले लेंगे। गत चैंपियन वेस्टइंडीज श्रीलंका से हारकर सेमीफाइनल की दौड़ से बाहर हो गई है।

38 साल के ब्रावो ने फेसबुक पर कहा, “मुझे लगता है कि समय आ गया है, मेरा करियर बहुत अच्छा रहा है … कुछ उतार-चढ़ाव थे, लेकिन जैसा कि मैं इसे देखता हूं, मैं इतने लंबे समय तक अपने देश और कैरेबियाई लोगों का प्रतिनिधित्व करने के लिए बहुत आभारी हूं।”

उन्होंने कहा, “ये विश्व कप वैसा नहीं था जिसकी हमें उम्मीद थी, ये विश्व कप वैसा नहीं था जिसे हम खिलाड़ी के रूप में चाहते थे। हमें अपने लिए दुख महसूस नहीं करना चाहिए, ये एक मुश्किल प्रतियोगिता थी, हमें अपना सिर ऊंचा रखना चाहिए।”

2006 में ऑकलैंड में न्यूजीलैंड के खिलाफ डेब्यू करने के बाद से ब्रावो ने वेस्टइंडीज के लिए 90 टी20 अंतरराष्ट्रीय मैच खेले हैं। जहां उन्होंने 22.23 की औसत और 115.38 की स्ट्राइक रेट से 1,245 रन बनाने के साथ 78 विकेट भी लिए।

ब्रावो वेस्टइंडीज की उन टीमों का हिस्सा थे जिसने 2012 और 2016 में टी20 विश्व कप जीता था। हालांकि यूएई में खेला जा रहे मौजूदा विश्व कप टूर्नामेंट में ब्रावो का प्रदर्शन खास नहीं रहा था। उन्होंने चार मैचों में दो विकेट लेने के साथ मात्र 16 रन ही बनाए।