West Indies paceman Shannon Gabriel won’t let up against England after Root row
शैनन गेब्रियल (IANS)

वेस्टइंडीज क्रिकेट टीम के तेज गेंदबाज शैनन गेब्रियल का कहना है कि इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट सीरीज के दौरान वो अपना रवैया बिल्कुल नहीं बदलेंगे। गेब्रियल ने ये बयान पिछली सीरीज पर इंग्लिश कप्तान जो रूट के साथ हुए विवाद के संदर्भ में दिया। उनका मानना है कि उस मामले को बढ़ा चढ़ाकर पेश किया गया था।

दरअसल पिछले साल विंडीज दौरे पर आई इंग्लैंड टीम के खिलाफ तीसरे टेस्ट के दौरान गेब्रियल ने रूट से पूछा था कि ‘क्या तुम्हे लड़के पसंद हैं’ जिसके जवाब में रूट ने कहा था कि ‘समलैंगिक होने में कोई खराबी नहीं है’। इस टिप्पणी की वजह से गेब्रियल पर चार मैचों का बैन लगाया गया था। गौरतलब है कि गेब्रियल के घर यानि कि त्रिनिदाद में आज भी समलैंगिक गतिविधिया अवैध हैं।

गुरुवार को कॉन्फ्रेंस कॉल के जरिए मीडिया से रूबरु हुए गेब्रियल ने कहा, “मैं उस बारे में ज्यादा नहीं सोचता, उस पर ज्यादा ध्यान नहीं देना चाहता हूं। उन्होंने जिस तरह से उस मामले को संभाला उससे वो कहीं ज्यादा बड़ा हो गया। मैं केवल आगे बढ़ना चाहता हूं।”

कोरोना संक्रमित शाहिद अफरीदी की हैल्‍थ के संबंध में सामने आया महत्‍वपूर्ण अपडेट

विंडीज गेंदबाज ने आगे कहा, “मेरे मन में कोई खराब भावना नहीं, मैं यहां क्रिकेट खेलने आया हूं, चाहे वो जो रूट या बेन स्टोक्स हों या जो भी हों, मैं उन्हें आउट करने की कोशिश करने की पूरी कोशिश करने जा रहा हूं, किसी एक खिलाड़ी को निशाना बनाने की कोशिश नहीं करूंगा।”

इंग्लैंड और वेस्टइंडीज के बीच होने वाले ये टेस्ट सीरीज बिना दर्शकों के बायो-सिक्योर बबल में खेली जाएगी। गेब्रियल ने कहा कि इसका खिलाड़ियों की मानसिकता और रवैए पर कोई असर नही पड़ेगा।

उन्होंने कहा, “जब तक ये नियमों के अंदर है और अपमानजनक नहीं है तो आप थोड़ी बैंटर कर सकते हैं। मुझे नहीं लगता कि कुछ बदलेगा।”

चेतेश्‍वर पुजारा ने बताई डे-नाइट टेस्‍ट से जुड़ी अपनी सबसे बड़ी उलझन

32 साल के क्रिकेटर ने कहा, “जब आप मैदान पर उतरते हैं तो आप अपने देश के लिए खेलते हैं और अगर आप अपना 10 प्रतिशत नहीं दे सकते तो मुझे नहीं लगता कि आपको वहां होना चाहिए। कैरेबियन में हमने जैसे रणनीति अपनाई थी, मुझे नहीं लगता कि यहां वो खास बदलेगी। हम उन चीजों को ठीक करने की कोशिश नहीं करनी चाहिए जो खराब नहीं हैं।”

बता दें कि रूट और गेब्रियल दोनों के ही 8 जुलाई से शुरू होने वाली इस सीरीज के शुरुआती मैच खेलने की संभावना नहीं है। रूट जहां अपने बच्चे के जन्म की वजह से टीम के अलग हो सकते हैं, वहीं गेब्रियल को अभी अपनी एड़ी की चोट से उबरने में थोड़ा समय लगेगा। 100 प्रतिशत फिट होने के बाद ही वो प्लेइंग इलेवन का हिस्सा बन सकते हैं। गेब्रियल का कहना है कि फिलहाल वो 85-90 प्रतिशत फिट हैं।