वेस्टइंडीज टीम © Getty Images
वेस्टइंडीज टीम © Getty Images

अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट पाकिस्तान में वापसी करने के लिए तैयार है क्योंकि श्रीलंका के बाद अब वेस्टइंडीज भी पाकिस्तान के दौरे पर जाने के लिए राजी हो गया है। वेस्टइंडीज लाहौर में टी20I मैचों की सीरीज खेलने पर सहमत हो गया है। पीसीबी ने एक में बयान कहा, ‘‘क्रिकेट वेस्टइंडीज और पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड के बीच बातचीत जारी है। हमारे बीच इस मुद्दे पर बातचीत हो रही है कि वेस्टइंडीज की टीम नवंबर के आखिर में लाहौर में पाकिस्तान के साथ टी20 मैच खेलेगी।’’ ये भी पढ़ें: वेस्टइंडीज की वनडे टीम में वापस लौटा टीम का सबसे ‘धाकड़’ बल्लेबाज, विरोधी टीमों की अब खैर नहीं

पाकिस्तान के क्रिकेट प्रशंसकों को नौ साल बाद पहली बार अपने देश में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट सीजन देखने को मिलेगा। साल 2009 में श्रीलंकाई टीम पर हुए आतंकी हमले के बाद पाकिस्तान में कोई भी टीम क्रिकेट नहीं खेलती है। पीसीबी ने श्रीलंका और वेस्टइंडीज टीमों के सितंबर के बाद पाकिस्तान आने की पुष्टि की। पीसीबी के चेयरमैन नजम सेठी ने कहा, ‘‘मेरा लक्ष्य अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट को पाकिस्तान में वापस लाना है और उम्मीद है कि हम अगले दो-तीन दिन में वर्ल्ड इलेवन टीम की घोषणा कर सकेंगे।’’

इसके अलावा पाकिस्तान सरकार ने वादा किया है कि वर्ल्ड इलेवन टीम के एक हफ्ते लंबे दौरे के लिए इतनी कड़ी सुरक्षा प्रदान की जाएगी जितनी किसी राष्ट्राध्यक्ष को मुहैया कराई जाती है। इस 15 सदस्यीय टीम में टेस्ट खेलने वाले देशों के सभी शीर्ष खिलाड़ी मौजूद होंगे। टीम की अगुवाई कोच के तौर पर एंडी फ्लावर करेंगे, इसमें दक्षिण अफ्रीका के हाशिम हमला, फाफ डु प्लेसिस, मोर्ने मोर्कल और इमरान ताहिर जैसे दिग्गज शामिल हैं।

सेठी ने आगे कहा, ‘‘वर्ल्ड इलेवन की टीम में बाकी खिलाड़ी वेस्टइंडीज, इंग्लैंड, श्रीलंका और न्यूजीलैंड के होंगे। भारतीय बोर्ड ने किसी भी भारतीय खिलाड़ी के वर्ल्ड इलेवन टीम में शामिल होने के लिए हरी झंडी नहीं दी है।’’ साल 2009 के बाद से केवल जिम्बाब्वे ने ही पाकिस्तान का दौरा किया है। जिम्बाब्वे के अलावा दुनिया की कोई और टीम पाकिस्तान में खेलने के लिए तैयार नहीं थीं लेकिन अब श्रीलंका के बाद वेस्टइंडीज भी पाकिस्तान का दौरा करने के लिए तैयार नजर आ रहा है।