what rahul dravid said on rohit sharmas playing update in fifth test against england

इंग्लैंड के खिलाफ रोहित शर्मा के खेलने को लेकर कई तरह के सवाल उठ रहे हैं। सीरीज के पांचवें टेस्ट से पहले रोहित शर्मा कोविड-19 संक्रमित हो गए हैं, ऐसे में यह सवाल काफी अहम हो गया है कि क्या भारतीय कप्तान इस मुकाबले में उतर पाएंगे। भारत और इंग्लैंड के बीच यह टेस्ट मैच बीते साल बीच में छूटी सीरीज का पांचवां मुकाबला है। भारतीय खेमे में कोविड के मामले आने पर वह टेस्ट स्थगित कर दिया गया था। भारत फिलहाल सीरीज में 2-1 से आगे चल रहा है। इस बीच यह भी खबर आई कि रोहित एक बार फिर जांच में कोविड पॉजिटिव ही पाए गए हैं, ऐसे में वह टेस्ट से बाहर हो गए हैं। साथ ही रोहित की गैर-मौजूदगी में जसप्रीत बुमराह टीम इंडिया की कमान संभाल सकते हैं।

लेकिन, टीम इंडिया के मुख्य कोच राहुल द्रविड़ ने इन सब बातों पर लगाम दी। द्रविड़ ने बताया कि रोहित अभी टेस्ट मैच से बाहर नहीं हुए हैं और मेडिकल टीम उनकी सेहत पर नजर बनाए हुए है। द्रविड़ ने यह भी कहा कि रोहित को अभी दो टेस्ट से गुजरना होगा। 30 जून को सुबह होने वाले टेस्ट के बाद ही रोहित के खेलने पर कोई फैसला लिया जाएगा।

द्रविड़ ने बुधवार को वर्चुअल प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा, ‘रोहित शर्मा अभी बाहर नहीं हुए हैं। अभी 36 घंटे का वक्त बाकी है। आज और कल एक टेस्ट होना है। मेडिकल टीम उनकी सेहत पर नजर बनाए हुए है। बेशक, मैदान पर उतरने से पहले उनकी कोविड रिपोर्ट नेगेटिव आनी जरूरी है। लेकिन अभी दो दिन का समय है।’

द्रविड़ से जब यह पूछा गया कि क्या जसप्रीत बुमराह टीम इंडिया की कप्तानी कर सकते हैं तो उन्होंने इस पर कोई भी टिप्पणी करने से इनकार ही कर दिया। द्रविड़ ने कहा कि अच्छा तो यही होगा कि खबर आधिकारिक रूप से ही बाहर जाए। उन्होंने कहा, ‘मेरा यह कहना कि जसप्रीत बुमराह कप्तान होंगे या नहीं, ठीक नहीं है। आपको आधिकारिक बयान का इंतजार करना चाहिए।’ द्रविड़ के कहने का अर्थ था कि बेहतर यही होगा कि सिलेक्टर्स या BCCI की ओर से इस पर कोई बयान जारी हो।

अगर बुमराह को कप्तानी का मौका मिलता है तो 1987 के बाद यह पहली बार होगा कि कोई तेज गेंदबाज भारतीय टेस्ट टीम की कप्तानी कर रहा है।