ऑस्‍ट्रेलिया दौरे पर भारतीय टीम ने मेजबानों को टेस्‍ट सीरीज में 2-1 से मात दी तो इसका श्रेय पूरी तरह से कार्यवाहक कप्‍तान अजिंक्‍य रहाणे को मिला. ऐसा होना लाजमी भी है क्‍योंकि विराट की गैर मौजूदगी में एक अनुभवहीन टीम के साथ खेलते हुए रहाणे भारत को जीत दिलाने में सफल रहे. अब विराट की जगह रहाणे को भारत का रेगुलर कप्‍तान बनाए जाने को लेकर चर्चाएं जारी हैं. भारतीय टीम के पूर्व विकेटकीपर बल्‍लेबाज और चयनकर्ता रह चुके सबा करीम इससे इत्‍तेफाक नहीं रखते.

स्‍पोर्ट्स कीड़ा वेबसाइट से बातचीत के दौरान सबा करीम ने कहा, “सच कहूं तो मुझे ये सभी चर्चाएं व्‍यर्थ लगती हैं. हमें इस बात के लिए शुक्रगुजार होना चाहिए कि हमारे पास ऐसे दो सीनियर खिलाड़ी हैं जो टीम को लीड कर सकते हैं- विराट कोहली बतौर कप्‍तान और अजिंक्‍य रहाणे बतौर उपकप्‍तान.

नेतृत्‍व के दौरान दो व्‍यक्तिव का होना काफी अच्‍छा है. एक लीडर आक्रामक चरित्र वाला है जबकि दूसरा बेहद शांत रहता है. दोनों ही बेहद प्रभावी हैं. दोनों को पता है कि मुश्किल वक्‍त का सामना कैसे करना है और कैसे टीम के साथियों को प्रेरित करना है.

सबा करीम से पूछा गया कि क्‍या विराट कोहली पर सभी फॉर्मेट की कप्‍तानी का दबाव है ?  उनके उपर से कुछ भार कम करना चाहिए. इसपर उन्‍होंने कहा, “अगर आप विराट, रहाणे और टीम मैनेजमेंट से इस बारे में बात करेंगे तो वो सही निष्‍कर्ष दे पाएंगे.”