who is rehan ahmed who could become youngest man to play a test for england
रेहान अहमद तोड़ सकते हैं इंग्लैंड का रिकॉर्ड. पाकिस्तान मूल के इस लेग स्पिनर को पाकिस्तान के खिलाफ टेस्ट सीरीज के लिए टीम में चुना गया है

नई दिल्ली: पाकिस्तान दौरे पर जाने वाली इंग्लिश टीम में 18 साल के एक युवा स्पिनर को शामिल किया गया है. उस खिलाड़ी का नाम है रेहान अहमद. लीस्टरशर के इस लेग स्पिनर को आधिकारिक रूप से पाकिस्तान दौरे पर जाने वाली इंग्लिश टीम का हिस्सा बनाया गया है.

अहमद के पास ज्यादा अनुभव नहीं है. उन्होंने सिर्फ तीन फर्स्ट क्लास मैच ही खेले हैं. पहले वह इंग्लैंड की टीम के साथ बतौर नेट बोलर पाकिस्तान जाने वाले थे. इंग्लैंड और वेल्स क्रिकेट बोर्ड (ईसीबी) को लगा कि इससे इस युवा खिलाड़ी को फायदा होगा. इंग्लैंड ने पहले बीते साल अक्टूबर में पाकिस्तान का दौरा करना था. लेकिन सुरक्षा कारणों का हवाला देते हुए इंग्लिश टीम ने ऐसा नहीं किया. इसके बाद अहमद ने इंग्लैंड लायंस के साथ यूएई में काफी कड़ी ट्रेनिंग की. टेस्ट टीम के खिलाफ वॉर्मअप मैच भी खेले. और अब वह पाकिस्तान दौरे पर आधिकारिक रूप से टीम के साथ होंगे.

टेस्ट कोच ब्रेंडन मैकलम ने ही अहमद को इस बात की जानकारी दी. टोलरेंस ओवल में प्रैक्टिस मैच में चायकाल के दौरान ही उन्हें यह जानकारी मिली. यहां उन्होंने पहले दिन 8 ओवर फेंके लेकिन 73 रन देने के बाद भी कोई विकेट नहीं ले पाए. पर कवर्स में उन्होंने एक शानदार कैच लपका.

अगर अहमद को पाकिस्तान के खिलाफ खेलने का मौका मिलता है तो 13 अगस्त 2004 को जन्मे अहमद इंग्लैंड के डेब्यू करने वाले सबसे युवा खिलाड़ी बन जाएंगे. वह ब्रायन क्लोज का रिकॉर्ड तोड़ेंगे जिन्होंने 1949 में न्यूजीलैंड के खिलाफ 18 साल 149 दिन की उम्र में टेस्ट मैच खेला था. अगस्त 2011 के बाद इंग्लैंड के लिए अंतरराष्ट्रीय मैच खेलने वाले वह लीस्टरशर के पहले क्रिकेटर भी हो सकते हैं. जब जेम्स टेलर ने वनडे इंटरनैशनल में डेब्यू किया था.

बीते 18 महीने में इस क्रिकेटर ने बहुत अच्छा प्रदर्शन किया है. साल 2021 में रॉयल लंदन कप में उन्होंने सात मैचों में पांच विकेट लिए थे और बल्ले से भी 44.50 के औसत से रन बनाए थे. इसके बाद अंडर-19 वर्ल्ड कप में उन्होंने इंग्लैंड के लिए 12 विकेट लिए. इंग्लैंड की टीम ने फाइनल तक का सफर तय किया. यहां उसे भारत के हाथों हार का सामना करना पड़ा था.

इसके बाद 2022 में उन्होंने डर्बीशर के खिलाफ शतक लगाया और पारी में पांच विकेट लिए. इस मैच में उन्होंने 114 रन देकर पांच विकेट लिए और 112 रन बनाए. वह गेंद और बल्ले दोनों से अच्छा प्रदर्शन कर सकते हैं. पहले वह पाकिस्तान जूनियर लीग- में भाग लेने वाले थे. यह पाकिस्तान सुपर लीग का अंडर-19 रूप है. हालांकि बाद में ईसीबी के कहने पर वहां से हट गए. ईसीबी उन्हें टेस्ट मैच खेल के लिए आजमाना चाहते थे.

इंग्लैंड की टीम को वह लियाम लिविंग्टस्न का विकल्प मुहैया कराएंगे. पाकिस्तान के दौरे पर जाने वाली इंग्लिश टीम में पहले सिर्फ जैक लीच ही एकमात्र स्पिनर थे.

इंग्लैंड की टीम 17 साल बाद पाकिस्तान जा रही है. यह दौरा अहमद के लिए भी काफी अहम है. उन्होंने ईएसपीएन क्रिकइंफो के साथ बातचीत में अक्टूबर में बताया था, ‘मेरे पिता पाकिस्तान से हैं. मेरा परिवार वहां रहता है. मेरा परिवार मीरपुर का रहने वाला है. जब भी मैं स्टेडियम गया हूं और ट्रेनिंग के लिए गया हूं तो आप देखते हैं कि आपको गेंदबाजी करने के लिए कई खिलाड़ी होते हैं और बल्लेबाजी करने के लिए कई बैटर होते हैं.’