why should Mithali Raj retire when she is performing well at the highest level, says personal coach RSR Murthy
Mithali Raj (File Photo) @ PTI

वेस्‍टइंडीज में महिला वर्ल्‍ड टी-20 के सेमीफाइनल मुकाबले से मिताली राज को बाहर रखने के बाद शुरू हुआ विवाद खत्‍म नहीं हो रहा है। कोच रमेश पोवार और मिताली के बीच झगड़ा लगातार सुर्खियों में बना हुआ है। मिताली क्रिकेट से संन्‍यास लेने की बात तक कह चुकी हैं। इसी बीच मिताली के निजी कोच आरएसआर मूर्ति का बयान सामने आया है। उनका कहना है कि मिताली के खेल के प्रति समर्पण पर सवाल उठाना गलत है।

आरएसआर मूर्ति सेंट जोन्‍स क्रिकेट अकादमी में पिछले 21 सालों से कोचिंग दे रहे हैं। मिताली ने भी अपने करियर के शुरुआती दौर में मूर्ति से कोचिंग ली है। उन्‍होंने कहा, “वक्‍त की मांग है कि भारतीय महिला टीम में विदेशी कोच लाया जाए। विदेशी कोच किसी भी बाहरी चीज से प्रभावित हुए बिना अपनी जिम्‍मेदारी निभाएगा। उसका झुकाव किसी व्‍यक्ति विशेष की तरफ नहीं होगा।”

उन्‍होंने कहा, “न्‍यूज रिपोर्ट्स पढ़ने से पता चलता है कि मौजूदा कोच रमेश पोवार व्‍यक्ति विशेष से दबाव में काम कर रहे हैं। महिला क्रिकेट में पुरुष कोच की बहाली की जाती है। हमारे पास इस वक्‍त होनहार और काबिल महिला कोच की भी कमी नहीं है।”

मिताली की रिटायरमेंट के सवाल पर आरएसआर मूर्ति ने कहा, “मिताली आखिर क्‍यों रिटायरमेंट ले, वो भी ऐसे समय में जब वो क्रिकेट के सबसे उच्‍चतम स्‍तर पर काफी अच्‍छा प्रदर्शन कर रही है। कुछ प्रभावशाली लोगों मिताली पर रिटायरमेंट का दबाव नहीं बना सकते हैं। वो देश के लिए अपना सर्वश्रष्‍ठ प्रदर्शन कर रही है। उसका हालिया प्रदर्शन बताता है कि वो इस वक्‍त फॉर्म में है।”

मूर्ति ने कहा, “मिताली राज तकनीकी रूप से काफी मजबूत है। वो क्रिकेट खेलने के लिए ही पैदा हुई है। खेल के प्रति उसके समर्पण पर कोई सवाल नहीं उठा सकता है। उसके स्‍तर का खिलाड़ी भारतीय महिला क्रिकेट के लिए एक गिफ्ट है।”