टी20 सीरीज जीतने के बाद वेस्टइंडीज के फैन्स को उम्मीद थी कि वह ऑस्ट्रेलिया (WI vs AUS ODI) को वनडे सीरीज में भी मजा चखाएगी. लेकिन 3 मैचों की सीरीज के पहले मुकाबले में कीरोन पोलार्ड (Kieron Pollard) की कप्तानी वाली टीम यहां औंधे मुंह गिर गई. बारिश से प्रभावित इस मैच में विंडीज को डकवर्थ लुईस (DLS) नियम के तहत 257 रन का लक्ष्य मिला था. लेकिन विंडीज की पूरी टीम मात्र 123 रन पर ढेर हो गई. कंगारू टीम की इस जीत के हीरो उसके दिग्गज तेज गेंदबाज मिशेल स्टार्क (Mitchell Starc) रहे, जिन्होंने 8 ओवर में 48 रन देकर 5 विकेट अपने नाम किए. स्टार्क के अलावा जोश हेजलवुड (Josh Hazlewood) ने भी सिर्फ 11 रन देकर 3 शिकार किए.

इससे पहले अपने नियमित कप्तान आरोन फिंच (Aaron Finch) के चोटिल होने के बाद ऑस्ट्रेलिया की कमान एलेक्स कैरी (Alex Carey) के हाथ में थी. उन्होंने यहां टॉस जीतकर पहले बैटिंग का फैसला किया और 49 ओवरों में 9 विकेट गंवाकर 252 रन बनाए. ऑस्ट्रेलिया के कार्यवाहक कप्तान एलेक्स कैरी (Alex Carey) ने 67 रन की पारी खेलने के अलावा (Ashton Turner) एश्टन टर्नर (49) के साथ 5वें विकेट के लिए 104 रन जोड़े.

49 ओवर में 257 रन के लक्ष्य का पीछा करने उतरी वेस्टइंडीज की शुरुआत बेहद खराब रही. एविन लुईस (0) ने पारी की पहली ही गेंद पर स्टार्क को वापस कैच थमाया. स्टार्क ने अपने अगले ओवर में जेसन मोहम्मद (2) को बोल्ड किया. हेजलवुड ने शिमरॉन हेटमायर (11) का अपनी ही गेंद पर कैच लपका, जबकि स्टार्क ने निकोलस पूरन (0) को LBW किया.

हेजलवुड ने छठे ओवर में डेरेन ब्रावो (2) को LBW करके वेस्टइंडीज का स्कोर 5 विकेट पर 23 रन किया. इस तेज गेंदबाज ने इसके बाद जेसन होल्डर (0) को भी पवेलियन भेजा. उसने 8वें ओवर तक ही अपने टॉप 6 विकेट गंवा दिए, जबकि स्कोरबोर्ड पर अभी मात्र 27 रन ही टंग पाए थे.

यहां से कप्तान (Kieron Pollard) कीरोन पोलार्ड (56) ने फिफ्टी जड़ते हुए टीम को संभालने की कोशिश जरूर की. उन्होंने अल्जारी जोसेफ (17) के साथ 7वें विकेट के लिए 68 रन जोड़े और टीम को उसके न्यूनतम स्कोर पर सिमटने से बचाया. हालांकि विंडीज की पूरी टीम मात्र 26.2 ओवर में ही ऑलआउट हो गई और टीम को 133 रन की हार का सामना करना पड़ा.