पूर्व पाक क्रिकेटर शाहिद आफरीदी (Shahid Afridi) के विवादित बयानों का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है। इस पाकिस्तानी खिलाड़ी ने कहा है भारतीय क्रिकेटर हरभजन सिंह (Harbhajan Singh) और युवराज सिंह (Yuvraj Singh) अपने देश में हो रहे अत्याचारों से वाकिफ हैं लेकिन मजबूर हैं।

आफरीदी ने ये बात हरभजन और युवराज के उस बयान के जवाब में कही, जिसमें इन दो दिग्गजों ने भारत विरोधी बयान देने के लिए पाक क्रिकेटर की आलोचना की थी।

आफरीदी ने कहा, “मेरे फाउंडेशन का समर्थन करने के लिए मैं हमेशा हरभजन और युवराज का शुक्रगुजार रहूंगा। असली समस्या ये है कि यह उनकी मजबूरी है। वो उस देश में रहते हैं, वो मजबूर हैं। उन्हें अपने लोगों पर हो रहे अत्याचारों के बारे में पता है। मैं आगे कुछ नहीं कहूंगा।”

दरअसल युवराज और हरभजन ने सोशल मीडिया पर आफरीदी के फाउंडेशन का समर्थन किया था और लोगों से उस फाउंडेशन में दान करने की अपील की थी। जिसके लिए इन दोनों खिलाड़ियों को काफी आलोचना झेलनी पड़ी थी।

हालांकि जब आफरीदी को पीएम मोदी की आलोचना करने वाला बयान सामने आया तो हरभजन और युवराज, दोनों ने ही इस पूर्व क्रिकेटर को खरी खोटी सुनाई।

हरभजन ने आफरीदी के साथ सारे रिश्ते रिश्ते तोड़ दिए, वहीं उन्हें अपने देश पर ध्यान देने की सलाह भी दी। युवराज ने भी कहा कि वो आफरीदी की इस हरकत से काफी निराश हैं और इस तरह के बयान को स्वीकार नहीं किया जा सकता।