Workload Management Will Come Into Effect In 2nd Phase Of IPL says Bhuvneshwar Kumar

भारत के अनुभवी गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार ने गुरुवार को कहा कि भारत की विश्व कप टीम में जगह बनाने वाले गेंदबाज काम के बोझ के प्रबंधन कार्यक्रम के तहत आईपीएल के दूसरे हाफ के दौरान उन मैचों को चुन सकते हैं जिनमें वे खेलना चाहते हैं।

भारतीय टीम प्रबंधन ने मांग की है कि 30 मई से शुरू हो रहे विश्व कप हो देखते हुए जसप्रीत बुमराह, मोहम्मद शमी और भुवनेश्वर कुमार की तेज गेंदबाजी तिकड़ी के काम के बोझ का फ्रेंचाइजियां प्रभावी प्रबंधन करें।

पढ़ें:- विश्व कप से पहले IPL खेलना खिलाड़ियों की मदद करेगा: MSK

आईपीएल के व्यस्त कार्यक्रम के बारे में पूछे जाने पर सनराइजर्स हैदराबाद के भुवनेश्वर ने कहा, ‘‘यह हमारे दिमाग में है। आईपीएल के पहले हाफ के बाद यह लागू किया जा सकता है, छह-सात मैचों के बाद हमें पता चलेगा कि आईपीएल के दूसरे हाफ में हम क्या कर सकते हैं और विश्व कप के लिए फिट रहने के लिए हमें क्या करना है।’’

भुवनेश्वर ने कहा, ‘‘हां, यह (विश्व कप) हमारे दिमाग में है लेकिन हम फिटनेस पर आईपीएल के दूसरे हाफ में गौर करेंगे।’’

पढ़ें:- रांची में धोनी और कोहली हासिल कर सकते हैं ये खास उपलब्धि

कोलकाता नाइट राइडर्स के सीईओ वैंकी मैसूर ने हाल में कहा था कि काम के बोझ के प्रबंधन को लेकर उन्हें बीसीसीआई से कोई निर्देश नहीं मिले हैं। चयन समिति के अध्यक्ष एमएसके प्रसाद ने कहा कि व्यावहारिक योजना तैयार करने के लिए बात चल रही है।

भुवनेश्वर ने कहा कि अगर वह थका हुआ महसूस करते हैं तो आराम लेंगे लेकिन ऐसा फ्रेंचाइजी को विश्वास में लेने के बाद ही करेंगे। उन्होंने कहा, ‘‘किसी भी चीज की कोई गांरटी नहीं है। अगर मुझे लगता है कि मैं थका हुआ हूं तो फिर आराम ले सकता हूं। बेशक यह फ्रेंचाइजी पर निर्भर करता है।’’

इस तेज गेंदबाज ने उम्मीद जताई कि प्रत्येक फ्रेंचाइजी भारतीय टीम के हित के बारे में भी सोच रही होगी। भुवनेश्वर ने कहा, ‘‘मुझे यकीन है कि वे प्रत्येक खिलाड़ी के साथ सहयोग करेंगे क्योंकि विश्व कप हमारे लिए काफी महत्वपूर्ण चीज है और बीसीसीआई ने भी शायद इस बारे में उनसे बात की होगी।’’