दुनिया के महान बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar) ने सोमवार को ‘वर्ल्ड रक्तदान दिवस’ (World Blood Donor Day) के मौके पर रक्तदान किया. भारतीय टीम के इस पूर्व कप्तान ने इस मौके पर लोगों से भी अपील की कि वे आगे आएं और रक्तदान का महत्व समझें और स्वेच्छा से रक्तदान करें.

48 वर्षीय तेंदुलकर ने ट्वीट किया, ‘हम सभी के पास जीवन बचाने की ताकत है. इसका इस्तेमाल करें.’ इस ट्वीट के साथ सचिन ने रक्तदान करते हुए एक वीडियो पोस्ट किया है. इस वीडियो में भी वह रक्तदान का महत्व बता रहे हैं और साथ ही उन्होंने बताया कि इस मौके उन्होंने अपनी टीम के साथ यह रक्तदान किया है.

https://twitter.com/sachin_rt/status/1404371484844314626?s=20

एक मिनट 17 सेकंड के इस वीडियो में उन्होंने कई बीमारियों और परिस्थितियों में रक्त की अहमियत पर जोर दिया. उन्होंने बताया कि किस तरह सुरक्षित रक्त कई मानव जानों को बचाने में अहम भूमिका निभा सकता है.

अपने विभिन्न सोशल मीडिया हैंडल पर पोस्ट वीडियो में तेंदुलकर ने अपने निजी अनुभव का भी जिक्र किया जब उनके करीबी रिश्तेदार को कुछ महीने पहले रक्त की आवश्यकता थी. तेंदुलकर ने कहा कि इस घटना ने उन्हें रक्तदान के लिए प्रेरित किया.

बता दें महान बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर भी इस बार मार्च के अंतिम सप्ताह में भारत में फैली कोरोना वायरस की दूसरी लहर का शिकार हो गए थे. तब तेंदुलकर रोड सेफ्टी वर्ल्ड सीरीज में भारत लीजेंड्स की टीम की कप्तानी कर रहे थे. इस सीरीज के बाद जब वह अपने घर लौटे तो उनमें घातक कोरोना वायरस के लक्षण दिखाई दिए थे.

इसके बाद उन्होंने अपना कोविड टेस्ट कराया तो वह पॉजिटिव पाया गया, जिसके बाद मास्टर ब्लास्टर ने पहले खुद को होम आइसोलेट किया और फिर डॉक्टरों की सलाह पर कुछ दिन हॉस्पिटल में भी बिताए. इसके बाद वह स्वस्थ होकर एक बार फिर रोजमर्रा की गतिविधियों में जुट गए हैं और उन्होंने सोमवार को रक्तदान भी किया.