Misbah-ul-Haq Getty Image
world needs to do more to revive international cricket in Pakistan, says Misbah ul Haq
Misbah-ul-Haq (File Photo) @ Getty Image

आतंक के साए के बीच श्रीलंका की एक नई टीम पाकिस्‍तान में खेलने के लिए पहुंच गई है। मेहमान टीम को यहां तीन टी20 और तीन वनडे मुकाबले खेलने हैं। पाकिस्‍तान के नवनियुक्‍त मुख्‍य चयनकर्ता व कोच मिस्‍बाह उल हक ने पाकिस्‍तान आने के लिए श्रीलंका की टीम को शुक्रिया कहा।

पढ़ें:- ICC T20I Ranking: विराट-धवन को हुआ फायदा, क्‍विंटन डी कॉक ने..

मिस्‍बाह ने अपने अंतरराष्‍ट्रीय करियर में कुल 56 टेस्‍ट मैच खेले हैं। उन्‍हें एक भी मैच में कप्‍तानी का मौका नहीं मिला।
मिस्‍बाह ने कहा, “पाकिस्‍तान में क्रिकेट को एक बार फिर जीवित करने की जरूरत है। केवल पाकिस्‍तान ही नहीं बल्कि दुनिया के हर उस हिस्‍से में जहां क्रिकेट प्रभावित हुआ है उसे जीवित करना होगा। इसमें दुनिया भर के देशों को योगदान देना होगा।”

राष्‍ट्रीय टीम की जिम्‍मेदारी मिलने के बाद मिस्‍बाह उल हक का बतौर कोच और मुख्‍य चयनकर्ता यह पहली सीरीज होगी। उन्‍होंने श्रीलंका की टीम की तारीफ करते हुए कहा, “मैं समझ सकता हूं कि पाकिस्‍तान का दौरा करना श्रीलंका के लिए एक मुश्किल फैसला होगा। पाकिस्‍तान क्रिकेट से प्‍यार करने वाला देश है। अगर उसे अंतरराष्‍ट्रीय क्रिकेट से दूर रखा गया तो यह उसके साथ अन्‍याय करने जैसा होगा। मैं उम्‍मीद करता हूं कि दुनिया भर के देश जितना ज्‍यादा हो सके इसमें हमारा साथ देंगे।”

पढ़ें- पेसर जसप्रीत बुमराह बोले-चोट से उबरकर मजबूत वापसी करूंगा

मिस्‍बाह ने कहा, “मौजूदा टीम में अधिकांश खिलाड़ी पहली बार अपने घर पर अंतरराष्‍ट्रीय क्रिकेट खेलेंगे। सभी इस सीरीज के लिए काफी उत्‍साहित हैं।”

साल 2009 में श्रीलंका की टीम पर लाहौर में हुए आतंकी हमले के बाद से ही पाकिस्‍तान में अतरराष्‍ट्रीय क्रिकेट बुरी तरह से प्रभावित है। क्रिकेट खेलने वाला कोई बड़ा देश पाकिस्‍तान में जाकर खेलना नहीं चाहता। हालांकि पाकिस्‍तान अबतक वेस्‍टइंडीज और जिम्‍बाब्‍वे को अपने देश में क्रिकेट खेलने के लिए बुला चुका है।