Wriddhiman Saha: Don’t look at Rishabh Pant as my competition
Wriddhiman Saha © AFP

चोट के चलते लंबे समय से क्रिकेट के मैदान से दूर रहे भारतीय विकेटकीपर बल्लेबाज ऋद्धिमान साहा सैयद मुश्किल अली ट्रॉफी के जरिए वापसी कर रहे हैं। साहा मई 2018 के बाद से घुटने की चोट, फिर सर्जरी और रिकवरी प्रक्रिया की वजह से भारतीय टीम से बाहर थे। ऐसे में उनकी जगह युवा खिलाड़ी रिषभ पंत को मौका मिला। हालांकि साहा पंत को अपने प्रतिद्वंदी नहीं मानते हैं।

ये भी पढ़ें: विश्व कप टीम के साथ आयरलैंड जाएगा बांग्लादेश: मशरफे मोर्तजा

क्रिकनेक्स्ट को दिए बयान में साहा ने कहा, “जब मैं बाहर था, रिषभ पंत को मौका मिला और किसी भी खिलाड़ी की तरह उसने मौके को दोनों हाथों से स्वीकार किया। मैं उसे अपने प्रतिद्वंदी की तरह नहीं देखता। असल में जब मैं एनसीमें था तब हम दोनों ने साथ में काफी समय बिताया, जो कि अच्छा रहा। इस दौरान हमने प्रदर्शन और चयन की बातें बहुत कम बार की।”

साहा ने आगे कहा, “मेरा काम अपनी क्षमता के अनुसार खेलना है और ये सुनिश्चित करना है कि मैं हर समय अपनी टीम की जरूरतों में योगदान दूं। मुझे लगता है कि चयन के मामले में मेरा कोई नियंत्रण है। इसलिए मेरा मुख्य उद्देश्य अच्छा प्रदर्शन करना और फिर चीजों को अपने आप होने देना है।”

ये भी पढ़ें: IPL कार्यक्रम: पहले दो हफ्ते के मुकाबलों की तारीख और जगह का एलान

बंगाल के विकेटकीपर बल्लेबाज को भारतीय टीम में वापसी का पूरा भरोसा है, हालांकि साहा को ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ भारत की ऐतिहासिक जीत में शामिल ना होने पाने का दुख है। उन्होंने कहा, “मैं इतने लंबे समय के बाद वापसी को लेकर आश्वस्त हूं, लेकिन मुझे इस बात की निराशा है कि मैं अच्छी सीरीज का हिस्सा नहीं बन पाया। इस बारे में कुछ किया नहीं जा सकता क्योंकि इंजरी ऐसी चीज है जिस पर आपका नियंत्रण नहीं है।”