भारतीय टीम (Team India) के विकेटकीपर बल्‍लेबाज और सनराइजर्स हैदराबाद (Sunrisers Hyderabad) के लिए खेलने वाले रिद्धिमान साहा (Wriddhiman Saha) ने कोरोना वायरस से संक्रमित होने के दौरान अपनी परेशानियों के बारे में खुलकर बात की. साहा ने बताया कि काफी डर गए थे. परिवार के सदस्‍यों में भी काफी घबराहट थी.

एक मई को रिद्धिमान साहा (Wriddhiman Saha) कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए थे. इसके बाद अगले ही दिन पूरे टूर्नामेंट को अनिश्चित काल के लिए स्‍थगित कर दिया गया.

रिद्धिमान साहा (Wriddhiman Saha) ने आनंद बाजार पत्रिका से बातचीत के दौरान कहा, “मैं सच में काफी डर गया था. इस वायरस ने पूरी पृथ्‍वी को रोक दिया है. इससे संक्रमित होने के बाद मैं काफी घबरा गया था. घर के सभी सदस्‍य मुझे लेकर चिंतित थे. वीडियो कॉल के माध्‍यम से हमने उन्‍हें विश्‍वास दिलाया कि इसमें परेशान होने की कोई बात नहीं है. मेरी अच्‍छे से देखभाल की जा रही है.”

साहा (Wriddhiman Saha) अब इस बीमारी से पूरी तरह से उबर गए है. उन्‍होंने कहा, “एक मई को प्रैक्टिस के बाद में काफी थका हुआ महसूस कर रहा था. मुझे जुखाम हो गया था और हल्‍की खांसी भी थी. मैंने टीम के डॉक्‍टर को इसकी सूचना दी. बिना कोई रिस्‍क लिए मुझे एकांत में रखने की व्‍यवस्‍था की गई और उसी दिन कोविड-19 का टेस्‍ट कराया गया.”

सनराइजर्स हैदराबाद की स्थिति मौजूदा टूर्नामेंट में खास अच्‍छी नहीं है. उसने सात में से केवल एक ही मैच जीता है. फ्रेंचाइजी ने भी मिड सीजन कप्‍तानी में फेरबदल करते हुए डेविड वार्नर के स्‍थान पर केन विलियमसन को टीम के नेतृत्‍व की जिम्‍मेदारी सौंपी है.