wtc champion new zealand we have the right to play more test cricket says tim southee
टिम साउदी @ICCTwitter

वर्ल्ड टेस्ट चैंपियन (WTC 2021) बनने के बाद न्यूजीलैंड की टीम का अगला फोकस ज्यादा से ज्यादा टेस्ट मैच खेलने पर है. पिछले सप्ताह इस टीम ने साउथम्टन में भारत को 8 विकेट से हराकर वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप का पहला खिताब अपने नाम किया. खिताब जीतने के बाद टीम के तेज गेंदबाज टिम साउदी (Tim Southee) का मानना है कि उनकी टीम अधिक टेस्ट मैच खेलने की हकदार है. साउदी ने कहा कि पिछले कुछ सालों में टीम ने इंटरनेशनल क्रिकेट में लगातार अच्छा प्रदर्शन किया है.

ब्लैक कैप्स (न्यूलीलैंड) ने पिछले पांच वर्षों में 18 द्विपक्षीय टेस्ट सीरीज में भाग लिया है, जिसमें सिर्फ 4 सीरीज तीन मैचों की थी. भारत ने भी इस दौरान 18 द्विपक्षीय टेस्ट सीरीज में हिस्सा लिया लेकिन उनमें से 12 में कम से कम तीन मैच शामिल थे.

‘ईएसपीएनक्रिकइंफो’ के मुताबिक साउदी ने कहा, ‘मुझे लगता है कि एक टीम के रूप में हमारी ताकत यह है कि हम केवल इस बात पर ध्यान देते हैं कि हमारे सामने क्या है, हम एक समूह के रूप में क्या प्रयास करते हैं और क्या हासिल करते हैं. मुझे हालांकि लगता है टेस्ट क्रिकेट खेलना अच्छा होगा.’

उन्होंने कहा, ‘हम तीन मैचों की सीरीज ज्यादा नहीं खेलते हैं. ऐसे में मुझे लगता है कि अधिक टेस्ट मैचों खेलने के साथ दो की जगह तीन मैचों की सीरीज में खेलने का मौका मिलना चाहिए.’

न्यूजीलैंड टीम के विपरीत, विराट कोहली की अगुवाई वाली भारतीय टीम ने इसी अवधि के दौरान 4 और 5 टेस्ट मैचों की कई सीरीज में भाग लिया. साउदी ने कहा, ‘लेकिन हां, मुझे लगता है कि भविष्य के दौरों (कार्यक्रम) के साथ अब तक यह मुश्किल रहा है, लेकिन कई वर्षों तक इस स्तर पर लगातार अच्छा प्रदर्शन करने में सक्षम होने और एक बेहतर टीम होने के कारण मुझे लगता है कि हमें अधिक टेस्ट मैच खेलने का अधिकार है.’

साउदी ने कहा कि तीन टेस्ट मैचों की सीरीज ज्यादा चुनौतीपूर्ण होती है और इससे खिलाड़ी को परखने के ज्यादा मौके मिलते हैं. उन्होंने कहा, ‘खिलाड़ियों के लिए टेस्ट क्रिकेट खेल का चरम है, और आप हमेशा अधिक टेस्ट खेलना चाहते हैं. यह कुछ ऐसा है कि हमने तीन मैचों की सीरीज नहीं खेली है, इसलिए दो की जगह तीन मैचों में खुद को परखने का मौका मिलेगा.’

इस 32 वर्षीय तेज गेंदबाज ने कहा कि वह जितना हो सके अपने करियर को आगे ले जाना चाहेंगे. इस मामले में वह टीम के साथी रॉस टेलर और इंग्लैंड के तेज गेंदबाज जेम्स एंडरसन से प्रेरणा ले रहे हैं.

(इनपुट : भाषा)