You can’t stamp out racism in sport without tackling it in society; Says Michael Holding
Michael Holding with Dilip Vengsarkar@ians (file image)

वेस्टइंडीज के पूर्व दिग्गज तेज गेंदबाद माइकल होल्डिंग का कहना है कि समाज से नस्लवाद को खत्म किए बिना खेल के मैदान से इसे खत्म करना संभव नहीं है।

अफ्रीकी अमेरिकी समुदाय के जॉर्ज फ्लॉयड की श्वेत पुलिस अधिकारी की बर्बरता से जान लेने के बाद अमेरिका सहित दुनियाभर में नस्लवाद को खत्म करने की मुहिम चल रही है।

वसीम जाफर ने ICC को दिए अहम सुझाव, बोले-टेस्ट क्रिकेट में इस चीज का करे इस्तेमाल

वेस्टइंडीज के लिए 60 टेस्ट में 249 विकेट लेने वाले होल्डिंग ने कहा, ‘आपको क्रिकेट के मैदान में तब तक नस्लवाद देखने को मिलेगा जब तक आप इसे समाज से खत्म नहीं करेंगे।’

इस पूर्व खिलाड़ी ने रविवार को इंस्टाग्राम पर एक चैट कार्यक्रम में कहा, ‘आपको लगभग हर जगह नस्लवाद देखने को मिलेगा, लोग क्रिकेट के मैदान, फुटबॉल के मैदान में इसका इस्तेमाल करेंगे। आप सिर्फ खेलों के जरिए नस्लवाद खत्म नहीं कर सकते, आपको इसे समाज से खत्म करना होगा।’

…तब द्रविड़, लक्ष्मण को गेंदबाजी करने से घबराते थे उमेश यादव

उन्होंने कहा, ‘समाज के लोग ही मैदान में ऐसा व्यवहार करते है। खेल में नियम कानून हो सकता है लेकिन समाज में लोगों को समझना होगा कि यह अस्वीकार्य है।’

वेस्टइंडीज के पूर्व कप्तान डेरेन सैमी ने भी ​आरोप लगाया कि इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में सनराइजर्स हैदराबाद के साथ खलते वक्त उनके खिलाफ नस्लवादी टिप्पणी की गई थी।