© Getty Images (Representational Image)
© Getty Images (Representational Image)

आंध्र प्रदेश के विजयवाड़ा में क्रिकेट खेलने के दौरान हुए झगड़े में एक शख्स की जान चली गई। पुलिस के मुताबिक इंजीनियरिंग का एक छात्र किरण कुमार कुछ बच्चों के साथ क्रिकेट खेल रहा था, इस दौरान गेंद देवकी देवी नाम की एक औरत को जा लगी। गेंद लगने के बाद कुमार ने अपनी गलती के लिए माफी मांगी, लेकिन देवकी का बेटा पी श्रीकांत वहां आया और वो कुमार से बहस करने लगा। दोनों के बीच झगड़ा बढ़ गया और श्रीकांत अपने घर से चाकू लेकर आया और उसने किरण के सीने में चाकू घोंप दिया, इससे किरण की मौत हो गई। यह घटना मंगलवार को महात्मा गांधी रोड के पास टेलीकॉम कॉलोनी में हुई।

पूछताछ के दौरान आस-पास रहने वाले लोगों ने बताया कि दोनों परिवारों के बीच पुरानी दुश्मनी थी। किरण कुमार ने कई बार शिकायत की थी कि श्रीकांत कॉलोनी में काफी तेजी से बाइक चलाता था। दोनों के बीच इसे लेकर कई बार झगड़े भी हो चुके थे। पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है। आपको बता दें कि क्रिकेट में जान जाने की ये कोई पहली घटना नहीं है। हाल ही में कुछ दिन पहले बिल्कुल ऐसी ही घटना बांग्लादेश में भी घटी थी। जहां क्रिकेट खेलने के दौरान एक बांग्लादेशी क्रिकेटर को स्टंप घोंप कर मार दिया गया था। [ये भी पढ़ें: क्या आज दिल्ली डेयरडेविल्स की जीत पक्की है?]

ढाका में हुई उस घटना में शिखदर दोस्तों के साथ मैच के दौरान विकेटकीपिंग कर रहा था। जब बल्लेबाज को आउट दिया गया तो शिखदर ने ये कहकर अंपायर का मजाक उड़ाया कि बल्लेबाज को बचाने के लिए अंपायर इस गेंद को नो बॉल बता सकता है, क्योंकि अंपायर इससे पहले भी ऐसा कर चुका था। इतना सुनकर बल्लेबाज ने अपना आपा खो दिया और उसने स्टंप से शिखदर क हत्या कर दी।