आशीष नेहरा © Getty Images
आशीष नेहरा © Getty Images

पिछले दिनों ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टी20 सीरीज के लिए टीम में आशीष नेहरा को शामिल किए जाने को लेकर कई तरह की प्रतिक्रियाएं सुनने को मिली थीं। अब इस संबंध में पूर्व भारतीय क्रिकेटर वीरेंद्र सहवाग ने खुलकर अपनी राय रखी है। सहवाग ने कहा कि नेहरा की टीम में वापसी से वह जरा भी हैरान नहीं हैं। कई लोगों को नेहरा का टीम में शामिल किया जाना इसलिए भी अजीब लगा क्योंकि वह अब 38 साल के हो गए हैं और अगला वर्ल्ड टी20 3 साल बाद खेला जाना है।

सहवाग ने इंडिया टीवी से कहा, “मुझे नहीं लगता कि वर्ल्ड कप में खेलने के लिए उम्र पैमाना होना चाहिए। अगर नेहरा फिट हैं, विकेट ले रहे हैं और कम रन दे रहे हैं, तो क्यों नहीं? सनथ जयसूर्या 42 साल तक खेले, सचिन तेंदुलकर 40 साल तक खेले तो आशीष नेहरा क्यों नहीं। हमने रिपोर्ट देखीं कि कई खिलाड़ी युवराज सिंह, सुरेश रैना यो-यो टेस्ट पास नहीं कर पाए। यही कारण है कि वे टीम का हिस्सा नहीं हैं। युवराज और रैना को यो-यो टेस्ट को पास करने के लिए ध्यान लगाना चाहिए क्योंकि अगर वे यो-यो टेस्ट पास कर लेंगे तो वह टीम में शामिल कर लिए जाएंगे। हर क्रिकेट के लिए फिटनेस एक मंत्र है, अगर आप फिट रहोगे तो आप हिट साबित होगे। मुझे नहीं लगता कि मौजूदा टीम में कोई भी अनफिट खिलाड़ी है।”

सहवाग ने कहा, “ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टी20 टीम में नेहरा के चयन से मैं जरा भी हैरान नहीं हूं। मैं इस बात से बहुत खुश हूं कि वह हमारी टीम का अंग हैं और मैं चाहता हूं कि वह भविष्य में और ज्यादा मैच खेलें।” सहवाग ने ये भी बताया कि कि नेहरा यो-यो टेस्ट में कप्तान विराट कोहली के स्कोर के काफी नजदीक रहे थे। उन्होंने आगे कहा, “नेहरा की फिटनेस के पीछे का राज ये है कि जब वह इंटरनेशनल क्रिकेट नहीं खेल रहे होते हैं तो वह जिम में करीब 8 घंटे बिताते हैं और अगर वह आज टी20 टीम का हिस्सा हैं तो वह इसलिए क्योंकि उन्होंने यो-यो टेस्ट पास किया है। उन्होंने यो-यो टेस्ट में करीब करीब 17-18 के स्कोर को पार किया और विराट कोहली के स्कोर को टच किया।” [ये भी पढ़ें: 2011 वर्ल्ड कप के फाइनल में लसिथ मलिंगा से डर रहे थे विराट कोहली!]

सहवाग ने आगे कहा, “नेहरा एक तेज गेंदबाज हैं और उन्हें दौड़ने के दौरान किसी भी तरह की परेशानी का सामना नहीं करना पड़ता। इसलिए उन्हें यो-यो टेस्ट को पास करने के लिए ज्यादा मेहनत नहीं करना पड़ी। नेहरा फिट रहना और जिम में समय बिताना पसंद करते हैं। इसका मतलब यह नहीं है कि वह ये दबाव में कर रहे हैं। उन्हें दौड़ना और तैरना पसंद है। और मुझे लगता है कि उन्होंने यो-यो टेस्ट में आसानी से 20 मीटर की दूरी तय कर ली होगी। उनके पास लंबाई होने का भी लाभ है। वह 6 फीट से ज्यादा लंबे हैं।”

इस सीरीज के साथ आशीष नेहरा की लंबे समय के बाद टीम इंडिया में वापसी हुई है। नेहरा आखिरी बार इंग्लैंड के खिलाफ टी20 सीरीज में खेलते नजर आए थे। उसके बाद वह आईपीएल 10 में चोटिल हो गए और वह तब से ही क्रिकेट मैदान से बाहर चल रहे थे।