युवराज सिंह © Getty Images
युवराज सिंह © Getty Images

एमएसके प्रसाद की अगुआई वाली सिलेक्शन समिति ने रविवार को श्रीलंका के खिलाफ 20 अगस्त से शुरू हो रही सीमित ओवर सीरीज के लिए टीम इंडिया की घोषणा की। जैसा कि मनीष पांडे और केएल राहुल ने टीम इंडिया में वापसी की है। ऐसे में बाएं हाथ के बल्लेबाज युवराज सिंह को बाहर का रास्ता दिखा दिया गया। पूर्व विकेटकीपर सबा करीम ने पीटीआई से बातचीत में कहा कि युवराज को टीम से उनकी फॉर्म के कारण नहीं बल्कि फिटनेस के कारण निकाला गया है।

सबा करीम ने कहा, “युवराज एक लड़ाका (फाइटर) हैं लेकिन मुझे लगता है कि 2019 वर्ल्ड कप में खेलने के लिए उन्हें फिटनेस पर ज्यादा ध्यान देना जरूरी है बजाय फॉर्म के। 20 ओवर क्रिकेट और 50 ओवर की क्रिकेट की फिटनेस में अंतर होता है।”

सबा करीम जो पिछले पैनल में नेशनल सिलेक्टर रहे थे उन्होंने कहा कि मनीष पांडे अच्छी प्रतिभा हैं इसलिए उन्हें अपनी जगह पुख्ता करने के लिए पर्याप्त मौके देना जरूरी है। उन्होंने कहा, “वह हमारा पैनल ही था जिसने युवराज सिंह को ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टी20 में साल 2015 में मौका दिया था। उस समय हम सिर्फ वर्ल्ड टी20 और युवराज के अनुभव को ध्यान में रखे हुए थे। लेकिन अब चीजें अलग हैं। मुझे लगता है कि मनीष एक बेहतरीन प्रतिभा हैं और पर्याप्त मौके उन्हें मिलने चाहिए।”

इसके आगे उन्होंने कहा कि वर्ल्ड कप 2019 को डेढ़ साल रह गया है इसलिए मुख्य टीम को लय में आने के लिए ज्यादा से ज्यादा क्रिकेट खेलने की जरूरत है। करीम ने कहा, “वर्ल्ड कप के लिए हमारे पास डेढ़ साल से थोड़ा ज्यादा का समय ही बचा है। इसलिए कोर टीम को कम से कम 40 मैच खेलने की जरूरत है। और मनीष ने इंडिया ए के कप्तान के रूप में बहुत अच्छा प्रदर्शन किया है और मौजूदा इंडिया टीम में वह सबसे बढ़िया फील्डर हैं।” [भारत बनाम श्रीलंका, तीसरा टेस्ट, तीसरा दिन, लाइव स्कोरकार्ड जानने के लिए क्लिक करें]

श्रीलंका के खिलाफ वनडे और टी20I भारतीय टीम: विराट कोहली (कप्तान), शिखर धवन, रोहित शर्मा, के एल राहुल, महेंद्र सिंह धोनी, केदार जाधव, हार्दिक पांड्या, अजिंक्य रहाणे, मनीष पांडे, अक्षर पटेल, कुलदीप यादव, जसप्रीत बुमराह, भवनेश्वर कुमार, युजवेंद्र चहल, शारदुल ठाकुर।